प्रेमी की हत्या के बाद प्रेमिका के घर आग:दरभंगा में 3 दिन पहले लड़के की गोली मार हुई हत्या, अब प्रेमिका के दो मंजिले घर में फेंका गया पेट्रोल बम

दरभंगाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घरवालों ने आग में 20 लाख संपत्ति जलने की बात कही है। इस मामले में लहेरियासराय थाना में FIR दर्ज कराया गया है। - Dainik Bhaskar
घरवालों ने आग में 20 लाख संपत्ति जलने की बात कही है। इस मामले में लहेरियासराय थाना में FIR दर्ज कराया गया है।

दरभंगा के लहेरियासराय में प्रेम प्रसंग के एक मामले ने तनाव बढ़ा दिया है। इलाके के रहमगंज मोहल्ले में बीते 8 अप्रैल को एक युवक की घर के सामने गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। परिवार वालों ने पड़ोसी पर ही प्रेम प्रसंग की वजह से हत्या कराने का आरोप लगाया था। अब इस घटना के तीन दिन बाद शनिवार की देर रात प्रेमिका के घर पर पेट्रोल बम से हमला किया गया। दोमंजिले मकान पर निशाना लगाकर पेट्रोल बम फेंके गए जिससे घर के अंदर के कमरों में आग लग गई। पीड़ित परिवार ने अब इस मामले में अपने पड़ोसियों को नामजद करते हुए FIR कराया है। शनिवार देर रात घटना के बाद से मोहल्ले में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

प्रेमिका के मकान में देर रात बाहर की ओर से पेट्रोल बम फेंके गए जिससे घर में आग लग गई।
प्रेमिका के मकान में देर रात बाहर की ओर से पेट्रोल बम फेंके गए जिससे घर में आग लग गई।

मिली जानकारी के अनुसार रहमगंज मोहल्ले में देर रात अज्ञात लोगों ने पेट्रोल बम के सहारे राजेश साह के दो मंजिला मकान में आग दी। देर रात आग की लपटें उठते ही मोहल्ला में भगदड़ मच गई। गहरी नींद में सो रहे लोग बाहर निकले। इस बीच अग्निशमन के लिए फोन किया मगर संकीर्ण रास्ता होने की वजह से उसके आने में लेट हुआ। आग बढ़ने की स्थिति को देखकर मोहल्ले वालों ने ही किसी तरह अपने-अपने घर के समरसेबल के सहारे पानी की बौछाड़ कर आग पर काबू पाया। इस बीच लहेरियासराय थानेदार सहित कई अन्य पुलिस अधिकारी भी वहां पहुंचे और आग बुझाकर मामले को तत्काल शांत तो किया। इस मामले में राजेश साह के पुत्र रोहन कुमार ने 8 नामजद सहित अज्ञात के खिलाफ आग लगाकर 20 लाख रुपए के नुकसान को लेकर लहेरियासराय थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है।

तीन दिन पहले हुई हत्या में नामजद है राजेश साह का परिवार

गुरुवार की दोपहर राजेश साह के पडोसी पीएचईडी के कर्मी वीरेन्द्र गुप्ता का बेटा अपने घर के दरवाजे पर बैठा था। इसी बीच बाइकसवार युवक मास्क पहने आया और उसे गोली मार चलता बना। परिजनों ने इलाज के लिए डीएमसीएच में भर्ती कराया। शाम चार बजे के करीब ऑपरेशन कर गोली निकाला गया, मगर शाम साढ़े छह बजे उसकी मौत हो गई। वीरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि पड़ोस की लड़की से प्रेम के चक्कर में उनके बेटे को धमकी भी दिया गया था और उन लोगों ने ही बेटे को गोली मरवाया है। यह भी बताया कि एक ही जाति की लड़की होने को लेकर शादी का भी ऑफर दिया गया। इस मामले में एक दिन पहले शाम में पंचायत के लिए उसे बुलाया गया था। कृष्णा और हम अपने भाई के साथ गए। मगर बात नहीं बनने पर शुक्रवार की सुबह पंचायत होनी थी।

खबरें और भी हैं...