पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दरभंगा का सबसे बड़ा अस्पताल पानी में डूबा:यहां भर्ती पप्पू यादव बोले- चुल्लू भर नहीं, अब इतना पानी है कि बेशर्म पूरा स्वास्थ्य महकमा डूब मर सकता है

दरभंगा23 दिन पहले
दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अंदर-बाहर हर जगह पानी ही पानी।

बिहार में कोरोना संक्रमण ने राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी है। विपक्ष इसे लेकर लगातार सरकार पर हमलावर है। कुछ दिनों पहले RJD सुप्रीमो लालू यादव ने भी बदहाल अस्पतालों की तस्वीर ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला था। ताजा मामला दरभंगा का है। यहां का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल DMCH एक बारिश में ही डूब गया है।

इस पर पूर्व सांसद पप्पू यादव ने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे पर जोरदार तंज किया है। यादव इसी अस्पताल में भर्ती हैं। यादव ने अस्पताल की तस्वीरें ट्वीट कर लिखा कि चुल्लू भर नहीं, अब इतना पानी है कि बेशर्म पूरा स्वास्थ्य महकमा डूब मर सकता है! ठीक कहा न मंगल पांडेय जी?

पप्पू यादव वही शख्स हैं, जिन्होंने हाल ही में एंबुलेंस को लेकर भाजपा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी के अस्पताल पर छापा मारा था। यहां 50 से अधिक एंबुलेंस कई दिनों से पड़े धुल खा रहे थें। इनमें रेत ढुलाई का भी काम चल रहा था। यादव ने इसका वीडियो भी जारी किया था। इसके बाद ही यादव को एक 32 साल पुराने मामले में पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। हालांकि तबीयत खराब होने के बाद उन्हें दरभंगा के DMCH भर्ती कराया गया है।

इमरजेंसी सेवा केंद्र के अंदर सभी जगहों पर पानी भरा
दरभंगा का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल DMCH पहली बरसात में ही डूब गया है। इमरजेंसी सेवा केंद्र के अंदर सभी जगहों पर पानी भर गया है। चाहे शल्य कक्ष हो या दवा भंडार, डॉक्टर चेंबर हो या प्रिंसिपल चेंबर, हर जगह पानी ही पानी है। सबसे बुरा हाल अस्पताल के मेडिसिन विभाग का है। यहां वार्ड के अंदर पानी घुस जाने के कारण मरीज और इनके परिजनों की समस्या काफी बढ़ गई है। मरीज बेड पर पड़े हैं और नीचे पानी हिलोरे ले रहा है।

अस्पताल के अंदर घुसा गंदा पानी।
अस्पताल के अंदर घुसा गंदा पानी।

DMCH में भर्ती पप्पू यादव ने स्वास्थ्य मंत्री को घेरा
मेडिसिन विभाग के इसी ICU में जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव भी भर्ती हैं। उनका इलाज चल रहा है। पप्पू यादव ने भी अस्पताल में जल-जमाव होने पर बिहार सरकार और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे को सोशल मीडिया पर निशाने पर लिया है। अस्पताल तो अस्पताल दरभंगा मेडिकल कॉलेज का हाल भी बाढ़ जैसे नजारे से कम नहीं है। कॉलेज के परिसर में घुटनों से ज्यादा पानी लगा है। मुख्य द्वार भी डूबा है। कॉलेज का रिसेप्शन पूरी तरह से जलमग्न है। कॉलेज के अंदर और परिसर में चारों तरफ पानी ही पानी दिख रहा है।

सुनिए मरीजों का दर्द
पानी के कारण इलाज करा रहे मरीज की परिजन सहना खातून ने बताया कि उन्हें बार-बार गंदे पानी से होकर जाना पड़ता है, जिससे उनके कपड़े भींग जाते हैं। दवाई लाने-ले जाने में भी परेशानी हो रही है। मेडिसिन विभाग में इलाज करा रहे मरीज के परिजन वार्ड में पानी लगने से काफी नाराज दिखाई दिए। उन्हें लगता है कि आदमी कोरोना और बीमारी से बाद में मरेगा, पहले इस गंदे पानी के कारण इन्फेक्शन से मर जाएगा।

घुटने भर पानी में अस्पताल से बाहर आता कर्मी।
घुटने भर पानी में अस्पताल से बाहर आता कर्मी।

कॉलेज खुलेगा भी कि नहीं, यह पता नहीं
मेडिकल कॉलेज के स्टाफ फुक्न महतो ने बताया कि पूरे मेडिकल कॉलेज के अंदर पानी भरा है। चारों तरफ पानी है। प्रिंसिपल चेंबर भी डूबा है। कॉलेज खुलेगा भी कि नहीं, यह नहीं बताया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...