पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्थापना दिवस:एम्स का निर्माण होने से मेडिकल की पढ़ाई करने वाले छात्रों के शैक्षणिक कार्य में कोई बाधा नहीं आएगी : मानस बिहारी

दरभंगा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दरभंगा मेडिकल कॉलेज के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में 39 छात्र-छात्राओं को मिला गोल्ड मेडल

डीएमसीएच के छात्रों को अस्पताल में मरीजों के इलाज के अलावा जो राज्य के अतिपिछड़े क्षेत्र हैं, वहां जाकर कुछ समय सोशल कार्यों में भी योगदान देना चाहिए। एम्स आने से मेडिकल की पढ़ाई करने वाले छात्रों के शैक्षणिक कार्य में कोई बाधा नहीं आएगी। ये बातें मंगलवार को मेडिकल कॉलेज के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पद्मश्री मानस बिहारी वर्मा ने कही। इससे पूर्व सुबह 8.30 बजे ध्वजारोहण से कार्यक्रम शुरू हुआ। इसके बाद नए भवन की लाइब्रेरी में महाराजा कामेश्वर सिंह की तस्वीर पर सभी डाॅक्टराें ने पुष्पांजलि अर्पित की। डॉ. यूपी सिंह ने कहा कि महाराजा रामेश्वर सिंह डीएमसीएच के लिए यह सोच कर जमीन नहीं दिए थी कि यहां मॉल, एनआईटी व बिजनेश मेनेजमेंट इंस्टीट्यूट खोला जाए। एम्स कहीं भी खोला जा सकता है। उन्होंने डीएमसीएच की 200 एकड़ जमीन को एम्स काे देने के विराेध में आवाज उठाने की बात कही। उन्होंने कहा कि 2000 बेड के मेडिकल कॉलेज व अस्पताल को तो सरकार चला नहीं पा रही है और एम्स खोलने की बात कर रही है।

डॉ. अमरकांत झा अमर ने कहा कि जो परंपरा यहां के चिकित्सकों ने स्थापित की है, वह बनी रहे। अधीक्षक डॉ. मणि भूषण शर्मा ने कहा कि कोरोना महामारी में यहां के डॉक्टरों ने मरीजों का बेहतर इलाज किया। प्रिंसिपल डॉ. कृपानाथ मिश्रा ने कहा कि नया डीएमसीएच नए आयाम के साथ नए भवनों में पुरानी योग्यता के साथ पूरे विश्व को सर्वोत्तम डॉक्टरों की नई खेप देगा। पूर्व अधीक्षक डॉ. आरआर प्रसाद ने कहा कि अस्पताल में जो भी मरीज इलाज के लिए आते हैं, उसकी जाति या धर्म पूछकर इलाज नहीं की जाती है।

गोल्ड मेडल पाकर उछल पड़े मेडिकल छात्र व छात्राएं तेजस्वनी अवार्ड से खिल उठे प्रसन्ना बाला व अर्पित राज

दरभंगा मेडिकल कॉलेज के 39 यूजी व पीजी छात्रों को स्थापना दिवस पर गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया। डॉ. एचएन यादव गोल्ड मेडल ऑवर ऑल टॉपर कविता सिजवाली को मिला। तेजस्वनी अवार्ड प्रसन्ना बाला व अर्पित राज को दिया गया। इसके साथ ही यूजी की छात्रा श्वेता सुमन, कौशिकी, सुनीता, रोहित राज, निभा, कौशिकी, इम्तेयाज आलम, राजा पासवान, सौरभ सुमन, प्रिया, कुमारी रंजनी, देबोजित पॉल, पुतुल कुमारी, संजीव, पुतुल, संजीव आमेर रजा, विनीता जोशी, जाहीन फातमा गोल्ड मेडल दिया गया। वहीं पीजी में डॉ. अशोक झा, डॉ. अद्वेत आकाश, डॉ. समी अहमद, डॉ. रेखा, डॉ. अंजली, डॉ. स्निग्धा गर्ग, डॉ. सूर्य नारायण, डॉ. विवेकानंद, डॉ. राजेश सिंह, डॉ. पूनम सिंह, डॉ. रेखा, डॉ. सुशील, डॉ. रणधीर मिश्रा को गोल्ड मेडल प्रदान किया गया।

डीएमसीएच की 200 एकड़ जमीन को छिना जा रहा है

शिशु विभाग के वरीय डॉ. ओम प्रकाश ने कहा कि हम एम्स के खिलाफ नहीं है। यह कहीं भी बन सकता है। लेकिन इसके कारण डीएमसीएच के 200 एकड़ जमीन को छिना जा रहा है। मौके पर डॉ. अशोक कुमार, डॉ. भोला नायक, डॉ. एचएन झा, डॉ. सुशील कुमार, डॉ. कन्हैया झा, डॉ. संजय झा भी थे।

योग : स्वस्थ व अनुशासित जीवनशैली : डॉ. एके गुप्ता
औषधि विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष व हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. एके गुप्ता ने योग, स्वास्थ्य एवं रोग विषय पर कहा कि योग एक स्वस्थ व अनुशासित जीवनशैली है। जिसके निरंतर अभ्यास से पूर्ण स्वास्थ्य, रोग एवं तनाव मुक्त जीवन हासिल किया जा सकता है। कम से कम रोज 10 से 15 मिनट भी योग करें।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें