पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सुधराइन का जलकर विवाद:पुलिस को देख भागे मछुआरे, विवाद खत्म, अब गड़बड़ी की तो होगा केस

कुशेश्वरस्थान पूर्वी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीसरे दिन पुलिस ने रास्ते में जब्त किया दो जाल

जलकर को लेकर जमीन मालिकों व मछुआरों के बीच पिछले तीन दिनों से चले आ रहे विवाद व तनाव को सलटाने एवं किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए शनिवार काे कुशेश्वरस्थान थाना पर काफी संख्या में पुलिस बल तैनात थे। काफी गहमागहमी थी। पुलिस बलों का नेतृत्व बिरौल एसडीपीओ दिलीप कुमार झा कर रहे थे। दिन के एक बजे 70 से 80 की संख्या में महिला व पुरुष पुलिस बल पांच वाहनों से सुधराइन गांव के लिए रवाना हुए। साथ में एसडीपीओ दिलीप कुमार झा, इंस्पेक्टर राजकपूर कुशवाहा, सीओ त्रिवेणी प्रसाद, कुशेश्वरस्थान थानाध्यक्ष गौतम कुमार एवं तिलकेश्वर ओपी के अध्यक्ष अखिलेश्वर कुमार राय भी थे। पुलिस को घटनास्थल पर पहुंचते ही कब्जा जमाए सभी मछुआरे वहां से भाग चले। बुलाने पर भी कोई नहीं आया। इसलिए दोनों पक्षों के बीच बातचीत नहीं हो पाई। तब एसडीपीओ ने सख्त हिदायत दी कि अवैध रूप से जलकर का कारोबार करने वाले लोगों पर एफआईआर दर्ज की जाएगी।

दो घंटे की बोट की सवारी कर पहुंची थी पुलिस

दिन के 2.30 बजे पुलिस कमला बलान तटबंध पर पहुंची। वहां बोट में सवार होकर सुधराइन गांव के लिए रवाना हुई। भारी संख्या में पुलिस के आने की सूचना मिलते ही अवैध रूप से जाल लगा रखे मछुआरे भाग निकले। पुलिस ने रास्ते में दो जाल जब्त किए। अपराहन 4.20 बजे पुलिस सुधराइन गांव स्थित रेज्ड प्लेटफॉर्म पर पहुंची। वहां दोनों पक्षों को बुलाया गया था। जमीन मालिकों की ओर से 8 किसान पहुंचे, लेकिन मछुआरों की ओर से कोई नहीं। एसडीपीओ दिलीप कुमार झा ने तिलकेश्वर ओपी के अध्यक्ष अखिलेश्वर कुमार राय को मछुआरों को बुलाने के लिए कहा। वे मछुआरों के टोले पर गए। लेकिन कोई नहीं आया। एक पक्ष के नहीं पहुंचने के कारण दोनों पक्षों के बीच बातचीत नहीं हो पाई। थक हार कर पुलिस शाम 5.45 बजे कुशेश्वरथान के लिए वापस हो गई।

एसडीपीओ ने कहा- विवाद में शामिल लोगों पर होगी एफआईआर

मामले के संबंध में एसडीपीओ दिलीप कुमार झा ने बताया कि दो जाल को जब्त किया गया। इससे पूर्व में दोनों पक्षों के बीच बांड भरवाया गया था। उन्होंने कहा जो लोग विवाद में शामिल हैं, उनके विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि जो बांड भरे थे और प्राथमिकी में उसका नाम आने पर बांड को रद्द कर दिया जाएगा। उसे गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा।
73 लोगों पर की गई थी 107 की कार्रवाई
बताया जाता है कि इस मुद्दे को लेकर बीते 12 सितंबर को स्थानीय थाना परिसर में बैठक की गई थी। उस दौरान दोनों पक्षों के 73 लोगों पर निरोधात्मक कार्रवाई की गई थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें