पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रशासन की लापरवाही:धान खरीद के लिए जिले के जिन 167 पैक्स व 4 व्यापार मंडल का चयन किया, उसे आज तक आदेश ही नहीं मिला

दरभंगा सदर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 15 नवंबर से ही खरीदना था धान, फिर 25 से खरीदने का रखा गया लक्ष्य, अबतक नहीं हुई शुरुआत

(आशुतोष कुमार झा) सरकार कहती है कि किसानों की आय दोगुनी की जाएगी। इस दिशा में लगातार ठोस प्रयास किए जा रहे हैं। लेकिन सरकार का सिस्टम किसानों की आय दोगुनी करने की बात तो दूर, उसकी हकमारी को भी बचाने में फेल है। इसका ताजा उदाहरण जिले में धान क्रय का मामला है। राज्य सरकार के निर्देशानुसार बीत 15 नवंबर से ही धान की खरीद शुरू करनी थी और किसानों को 48 घंटे में उसका भुगतान देना था। मगर जिला प्रशासन उस आदेश का फॉलो एक सप्ताह बाद किया। 24 नवंबर को जिला स्तरीय बैठक में डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने 24 घंटे में धान का क्रय शुरू कराने का निर्देश दिया। इसके लिए जिले के 167 पैक्स और 4 व्यापार मंडल को अधिकृत किया गया। लेकिन आज तक किसी भी पैक्स या व्यापार मंडल में धान का क्रय शुरू नहीं किया जा सका है। इससे किसानों में सरकार और प्रशासन के प्रति क्षोभ व्याप्त है। क्योंकि किसानों को रबी की खेती के मद्देनजर औने-पौने दाम में धान को बेच देने की मजबूरी है। फिर अनेक किसान उसे अब भी सहेज कर रखे हैं, ताकि सरकारी दर पर उसे बेच सकें।

ये है सरकारी सिस्टम का सच धान क्रय शुरू कराने को लेकर सरकार के सचिव ने जब सख्ती दिखाई तो जिला प्रशासन ने इसकी बैठक की। उस बैठक में जिला सहकारिता पदाधिकारी ने जिले के 330 पैक्सों में से चयनित 167 और 4 व्यापार मंडलों की सूची प्रस्तुत की। जब इन पैक्सों की रियलिटी चेक की गई तब रिजल्ट चौंका वाला सामने आया। सभी प्रखंडों के दो-तीन पैक्स अध्यक्षों से यह पूछा गया कि क्या आप धान की खरीद कर रहे हैं। जवाब मिला कि उन्हें धान की खरीद करनी है, इसकी जानकारी भी नहीं है। फिर खरीदी की बात तो कोसों दूर है।

केस-1

सदर प्रखंड के भालपट्टी पैक्स अध्यक्ष उदय शंकर चौधरी और केवटी प्रखंड के लालगंज पैक्स अध्यक्ष धर्मेंद्र चौरसिया बताते हैं कि उन्हें धान का क्रय करना है, यह तो मालूम भी नहीं है। इस संबंध में विभाग द्वारा कुछ भी नहीं बताया गया है। अगर ऐसा होता तो हम लोगों का अभी तक एग्रीमेंट प्रक्रिया पूरी क्यों नहीं कराई गई, ताकि धान क्रय किया जा सके।

केस-2
बिरौल प्रखंड के नेउरी पैक्स अध्यक्ष कृष्ण कुमार झा ने बताया कि उन्हें अभी तक किसी भी तरह का कोई लिखित आदेश नहीं जो धान क्रय कर सकें। पिछले वर्ष जो धान क्रय किया गया, उसके लिए अब तक इंसेंटिव नहीं दिया गया और ना ही कोई भी तरह के खर्च का पैसा भुगतान हुआ। सब आज तक लंबित ही है। फिर किस आधार पर धान क्रय करें।

केस-3
अलीनगर प्रखंड के लहठा तुमौल सुहथ पैक्स के अध्यक्ष मोहन झा ने बताया कि धान में नमी अधिक होने के कारण अभी उसका क्रय शुरू नहीं किया गया है। लेकिन अभी तक हम लोगों को विभाग द्वारा एग्रीमेंट की प्रक्रिया भी पूरी नहीं हुई है, तो हम लोग किस आधार से क्रय करना शुरू करें। एग्रीमेंट की प्रक्रिया पूरी होने के तत्पश्चात हम धान खरीदने लगेंगे।

केस-4
बहादुरपुर प्रखंड के उघरा महापारा पैक्स अध्यक्ष हरि नारायण यादव ने बताया कि हम लोगों के यहां बाढ़ में पूर्ण रूप से धान की फसल नष्ट हो गई। ऐसे में हम लोग धान कहां से क्रय करेंगे। सरकार की यह घोषणा ही मेरे हिसाब से ढकोसला है, क्योंकि धान हुआ ही नहीं तो उसका क्रय कहां से होगा। यह सब तमाशा है।

^जिले के 167 पैक्स और 4 व्यापार मंडल को धान खरीदने के लिए अधिकृत किया गया है। लेकिन कोई जरूरी नहीं कि सभी पैक्स धान का क्रय करे ही। कुछ जगह बाढ़ से फसल क्षतिग्रस्त हो गई थी। इसका आंकड़ा मंगवाया जा रहा है। जिन्हें खरीदना है, उन्हें सीसी एग्रीमेंट की सूचना दी जाएगी। - डॉ. अहमद हयात बर्क, जिला सहकारिता पदाधिकारी

^धान खरीद के लिए तैयारियां चल रही हैं। सभी चयनित व्यापार मंडल व पैक्स अध्यक्षों को धान खरीदने से संबंधित पत्र एक से दाे दिनाें में मिल जाएगा। उसके बाद जिले के चयनित सभी पैक्सों व व्यापार मंडलों में धान का क्रय शुरू हो जाएगा। रविवार को छुट्‌टी के कारण पत्र नहीं भेजा जा सका है।
- डॉ. त्यागराजन एसएम, जिलाधिकारी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser