सफलता:डब्ल्यूआईटी की टेक्नोक्रेट बेटियों को संवाद के अवसर मिलने से खुशी

दरभंगा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • टीसीएस की ओर से आयोजित वेबिनार में विचार रखने का अवसर मिला

एलएनएमयू के स्ववित्त संस्थान डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम महिला प्रौद्योगिकी संस्थान की टेक्नोक्रेट बेटियां आधुनिकता के दौर में शामिल होने के लिए सतत प्रयासरत हैं। कोरोना के इस कठिन समय में भी यहां की छात्राएं लगातार अपनी कई उपलब्धियां दर्ज करा रही हैं। संस्थान के निदेशक डॉ. यूके दास व वरीय फैकल्टी अमर चौधरी ने बताया कि फिलवक्त, संस्थान के 4 छात्राओं को अंतरराष्ट्रीय आईटी कंपनी टीसीएस की ओर से आयोजित वेबिनार में भाग लेने से संस्थान की अन्य छात्राओं में भी प्रसन्नता है। यह वेबिनार संस्थान के कैंपस प्लेसमेंट एवं रोजगारोन्मुखी आयाम को बढ़ावा देने के लिए टीसीएस एनक्यूटी की पहल पर अायोजित किया गया था। इसमें शामिल छात्राओं ने शेयर अनुभाव शेयर किया।

बड़ी कंपनी के बारे में जानने काे मिला : सुषमा कुमारी
बीटेक सीएसई की छात्रा सुषमा कुमारी ने कहा कि वे वेबिनार के माध्यम से आईटीसी जैसी बड़ी कंपनी के बारे में बहुत जानने का अवसर मिला है। इंटरनल एग्जाम की तैयारी करने में सहुलियत होगी।
इससे प्लेसमेंट आदि में होगा लाभ : ऋतंभरा साहनी : बीटेक सीएसई की छात्रा ऋतंभरा साहनी ने कहा कि वेबिनार से बहुत अच्छा अनुभव रहा। कई महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। छात्राओं के लिए यह सब बहुत लाभदायक है। आने वाले समय में इससे प्लेसमेंट आदि एग्जाम में हमें लाभ होगा।

खबरें और भी हैं...