सदर प्रखंड की साेनकी पंचायत का मामला / पंचायत भवन क्वारेंटाइन सेंटर पर गए प्रवासियाें काे मुखिया पति ने स्कूल में भेज दिया, भूखे पेट सोना पड़ा

X

  • मुखिया पति ने कहा- मैंने यह साेच कर भेज दिया कि स्कूल में खाने की व्यवस्था हाे जाएगी, पर वह क्वारेंटाइन सेंटर है ही नहीं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

दरभंगा. सदर प्रखंड के सोनकी पंचायत के लगभग 35 प्रवासी जब 20 मई काे पीएचसी पहुंचे ताे उन्हें बताया गया कि अाप लाेगाें के िलए पंचायत सरकार भवन काे क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। लेकिन जब वे लाेग वहां पहुंचे ताे मुखिया पति ग्राम पंचायत सोनकी के मुखिया पति केदार शाह ने उन्हें वहां से यह कहकर वापस भेज दिया की इस जगह काे पहले क्वारेंटाइन सेंटर के लिए चिह्नित किया गया था। इस मामले में जब मुखिया पति ने बताया कि मैंने यह साेच कर उन्हें राजकीय मध्य विद्यालय सोनकी में शिफ्ट कर दिया की वहां उनके खाने-पिने की व्यवस्था हाे जाएगी। पंचायत सरकार भवन पर परेशानी हाेती। 
प्रवासी अरुण कुमार यादव, मनोहर ठाकुर, संजीत लालदेव, लल्लन लाल देव, वरुण मंडल, लाल बाबू यादव, रंजीत यादव, बंशी कुमार यादव, जय हिंद मंडल, सुरेश मंडल, नूनू मंडल अादि ने बताया की मुखिया के कहने पर हम लोग जब राजकीय मध्य विद्यालय सोनकी पहुंचे ताे प्रधानाध्यापक के द्वारा रूम खोल दिया गया। लेकिन वहां पर बिस्तर, रोशनी और खाने की कोई व्यवस्था नहीं की गई।
शौचालय का ताला तोड़कर किया उपयोग
प्रवासियों ने घर से बिस्तर मंगाया, लेकिन रात को लोगों के घर से भोजन नहीं आ सका। जिस कारण उन्हें भूखा ही रहना पड़ा। प्रवासियों ने बताया कि शौचालय में ताला लटका हुआ था, जिसे तोड़कर उपयाेग किया। फिर प्रवासियों ने बताया कि बुधवार को मुखिया पति को फोन कर बोला कि हम लोगों के लिए व्यवस्था कीजिए। पर कोई पहल नहीं की गई। फोन करने पर शुक्रवार को 11 बजे सोनकी ओपी अध्यक्ष ने प्रवासियों को पंचायत सरकार भवन में शिफ्ट करवा दिया। लेकिन फिर मुखिया पति ने उन लोगों को वहीं शिफ्ट करने की बात कही।
अपने स्तर से सभी व्यवस्था की : एचएम  
राजकीय मध्य विद्यालय सोनकी की प्राचार्या ममता कुमारी ने बताया की मुझे सूचना मिला की मेरे विद्यालय पर कुछ प्रवासी आए हुए हैं। अपने स्तर से मैने प्रवासियाें को ठहरने के लिए हर संभव प्रयास कर व्यवस्था करवाई।

क्वारेंटाइन सेंटर पंचायत सरकार भवन पर ही बनाया जाएगा। प्रवासियों के लिए भोजन की व्यवस्था चिकनी मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक के द्वारा की जाएगी।
अरुण कुमार सक्सेना, सीओ सदर
इधर, मेकना वेदना के मुखिया ने प्रवासियाें का स्टेशन पर किया स्वागत
दरभंगा | बहादुरपुर प्रखंड की मेकना वेदना पंचायत के मुखिया मो. कलाम ने अपनी पंचायत के प्रवासी मजदूरों को रेलवे स्टेशन के पास स्वागत किया। उन्होंने लोगों को बिस्कुट, केला, पानी व मास्क दिए। लोगों को माला पहनाकर स्वागत कर चार टेंपो से लक्ष्मीपुर संकुल भेाजा। बताया कि चार दिनों से सीओ को गुहार लगा रहे हैं कि लक्ष्मीपुर संकुल में बिना क्वारेंटाइन सेंटर के प्रवासी मजदूर रह रहे हैं। उस संकुल को अभी तक सेंटर नहीं बनाया गया है। बार-बार कहने के बावजूद प्रशासन ने ध्यान नहीं दिया। सरकार कोरोना को रोकने एवं लोगों की हिफाजत में विफल साबित हो रही है। मौके पर जीतू यादव, हरिश सिंह राजपूत, मो गुलाब,चंदन पासवान,अयान खान, अक्षय कुमार मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना