आक्रोश:पंजाब में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक के विरोध में भाजपाइयों ने किया प्रदर्शन

दरभंगा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेनीपुर में पुतला दहन कर विरोध जताते भाजपा कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
बेनीपुर में पुतला दहन कर विरोध जताते भाजपा कार्यकर्ता।
  • पंजाब सरकार के विरुद्ध जमकर की गई नारेबाजी; बेनीपुर, अलीनगर और बिरौल में जलाया पुतला

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक के विरोध में शुक्रवार को बेनीपुर नगर भाजपा की ओर से बेनीपुर अनुमंडल मुख्यद्वार के सामने पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी का पुतला दहन कर विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने पंजाब सरकार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी भी की। कार्यक्रम में जिला भाजयुमो मंत्री केशव झा, नगर भाजयुमो संयोजक राजा झा, अतिपिछड़ा मोर्चा अध्यक्ष सुबोध कामत, किसान मोर्चा अध्यक्ष संतोष झा,अनुसूचित जाति मोर्चा अध्यक्ष रविकांत पासवान, सोशल मीडिया प्रभारी आलोक महतो, उपेंद्र पासवान, गणेश पासवान, कैलाश झा, सहित दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

अलीनगर | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिला को पंजाब जाने के दौरान फिरोजपुर में रोके जाने की घटना के बाद से आम लोगों से लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश देखा जा रहा है। शुक्रवार को प्रखंड भाजपा के कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह विरोध प्रदर्शन कर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी का अंटौर चौक पर पुतला दहन किया एवं कांग्रेस के नेता के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मौके पर भाजपा नेता रामनाथ सहनी ने कहा इस घटना की जितनी भी निंदा की जाए वह कम है उस दिन को इतिहास के काले अक्षरों में लिखा जाएग।

एक ओर प्रधानमंत्री पंजाब को विकास के कई तोहफे देने जा रहे थे जबकि वहां की कांग्रेसी सरकार इनके काफिला रोके जाने का षड्यंत्र रच रही थी। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में तैनात एसपीजी कमांडो ने बड़ी सूझबूझ के साथ प्रधानमंत्री को सुरक्षित वहां से निकाला उनकी जितनी भी प्रशंसा की जाए वह कम है। उच्च स्तरीय जांच करवाने की मांग | नवनिर्वाचित जिप सदस्य नंदकिशोर झा बेचन ने इस घटना की निंदा करते ही इसकी उच्चस्तरीय जांच करवाने की मांग करते हुए दोषियों पर सख्त कार्रवाई किए जाने की मांग की है । उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह से इस घटना की जांच करवाकर दोषियों पर अविलंब कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

सत्ता के लिए किसी भी हद तक गिर सकती है कांग्रेस : माधव कुमार वत्स
बिरौल। बिरौल भाजपा दक्षिणी मंडल अध्यक्ष रंजीत कुमार झा के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने पंजाब में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में षडयंत्र के तहत पंजाब सरकार के चूक करने के विरुद्ध मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का पुतला दहन किया गया। मौके पर भाजपा जिला प्रवक्ता माधव कुमार वत्स ने कहा कि कांग्रेस सत्ता के लिए किसी भी हद तक गिर सकती है। अलगाववादियों के मनोबल को बढ़ाने के लिए जानबूझकर पंजाब की कांग्रेस सरकार प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक कर निर्लज्जता की पराकाष्ठा को पार कर गई है।

कांग्रेस का ही देन है भारत का विभाजन हुआ और सीमावर्ती क्षेत्रों में अलगाववाद को बढ़ावा मिला। कांग्रेस मुक्त भारत होते ही देश की अधिकांश समस्याओं का समाधान हो जाएगा। देश की एकता और अखंडता एवं मर्यादित राजनीति के लिए पंजाब में राष्ट्रपति शासन लागू करना बहुत ही जरूरी है। मौके पर नवल आचार्य, कौशलेंद्र आचार्य, दुर्गानंद चौधरी, अरविन्द शर्मा, होरील पासवान, सोमनाथ झा, मिथिलेश शर्मा, सुनील झा, संतोष ठाकुर सहित कई भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

पीएम की सुुरक्षा में पंजाब सरकार ने बरती लापरवाही : सुरेश झा

दरभंगा | बिहार प्रदेश भाजपा वाणिज्य प्रकाेष्ठ के प्रदेश प्रवक्ता सीए सुरेश झा ने कहा कि भारत के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ पंजाब में हुआ। रैली स्थल पर जाते वक्त कुछ प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री के काफिला को रास्ते में ही रोक दिया। रैली में प्रधानमंत्री को कई योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करना था। पीएम माेदी को हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक तक हेलीकॉप्टर से जाना था, लेकिन बारिश और खराब मौसम की वजह से सड़क के रास्ते से जाने का फैसला हुआ। इससे पहले पीएम ने बठिंडा में मौसम साफ होने का करीब 20 मिनट तक इंतजार भी किया। लेकिन, जब मौसम में सुधार नहीं हुआ तो यह तय हुआ कि अब सड़क मार्ग से राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाया जाए, जिसमें लगभग दो घंटे से अधिक समय लगेगा और जब डीजीपी पंजाब पुलिस द्वारा आवश्यक सुरक्षा प्रबंधों की पुष्टि हो गई तब पीएम मोदी का काफिला सड़क मार्ग से यात्रा करने के लिए राष्ट्रीय शहीद स्मारक के लिए निकला। मोदी का काफिला जब एक फ्लाईओवर पर पहुंचा तो वहां कुछ प्रदर्शनकारी सड़क को जाम कर चुके थे। प्रधानमंत्री 15 से 20 मिनट तक प्रदर्शनकारियों की वजह से फ्लाईओवर पर फंसे रहे और वहां से वापस लौट आए। सीए सुरेश झा ने इसके लिए पंजाब सरकार को दोषी ठहराते हुए कहा कि जानबूझकर मोदी के रास्ते में कांग्रेसियों ने भीड़ इकट्ठा करवाया था।

खबरें और भी हैं...