पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तीन गांव के लोगों में फैली अफवाह:ना बाबा ना, मरना कबूल है, लेकिन टीका लेना कबूल नहीं

हायाघाट16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • टीका लेने से मौत हो जाती है एवं संतान की उत्पत्ति नहीं हाेती, इसलिए नहीं ले रहे हैं वैक्सीन
  • हायाघाट के घरारी, नया टोला व मोहम्मदपुर में जागरुकता नहीं

जागरुकता की कमी एवं अफवाह की वजह से अधवारा समूह की नदियां करेह व बागमती से चारों ओर घिरे घरारी, नया टोला व मोहम्मदपुर सिरनियां गांव के लोग वैक्सीन नहीं ले रहे हैं। उनमें यह अफवाह फैली है कि टीका लेने से मौत हो जाती है एवं संतान की उत्पत्ति भी नहीं हाेती है। जब ग्रामीणों से पूछा गया कि आपलोग टीका क्यों नहीं ले रहे हैं।

तपाक से एक बोला- ना बाबा ना, मरना कबूल है, लेकिन टीका लेना मंजूर नहीं। नासमझ ग्रामीण की चौंकाने वाली यह बात प्रशासन के जागरुकता अभियान की पोल खोलने के लिए काफी है। बताया जाता है कि इन तीनाें गांवाें की आबादी लगभग 7000 है। यह बात दीगर है कि इन गांवों में आज तक कोरोना से कोई अनहोनी नहीं हुई।

लोग पाॅजिटिव हुए या नहीं, यह अंधेरे में है। क्योंकि जांच कैंप लगने पर किसी ने जांच ही नहीं कराई। बताया जाता है कि इन गांवाें में 5 मई को हायाघाट पीएचसी के स्वास्थ्य कर्मियों ने टीकाकरण के लिए कैंप लगाया था। लोगों ने स्वास्थ्यकर्मियाें के साथ अपशब्द का प्रयोग किया एवं गांव से चले जाने की नसीहत तक दे डाली।

मुखिया ने परिवार के सभी सदस्याें के साथ ली वैक्सीन

भास्कर की टीम ने उक्त गांव की हालातों पर लोगों की राय ली। पंस सदस्य अनिरुद्ध यादव, राजेश यादव आदि ने बताया कि ग्रामीण डॉक्टर इलाज करते हैं। मल्हीपट्टी दक्षिणी पंचायत के मुखिया मो. लालबाबू ने बताया कि उनका पूरा परिवार टीका ले चुका है। टीका लेने के लिए जागरूक करने पर भी लोग टीका लेने से इंकार कर गए।

लाेगाें काे जागरूक करने जाएगी टीम

बीडीओ राकेश कुमार ने बताया कि इन गांवाें में कोरोना टास्क फोर्स की टीम जाकर लाेगाें काे टीका लेने के लिए प्रेरित करेंगे। उन्हाेंने कहा कि अज्ञानतावश लाेग ऐसा कर रहे हैं।

इन सभी गांवों में लोगों को टीका के उद्देश्य को बताया जाएगा। जिसके बाद जल्द ही जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। साथ ही टास्क फोर्स का गठन किया जा चुका है। टीम वैक्सीन देने को लेकर ठोस कदम उठाए जाएंगे।
श्याम नारायण यादव, स्वास्थ्य प्रबंधक, पीएचसी

भास्कर अपील- ​​​​​​​वैक्सीन लेकर ही आप खुद को और परिवार को कोरोना से बचा सकते हैं। देश में बनी वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। देश में बनी वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। वैक्सीन लगाकर ही आप समाज में तीसरी लहर का संक्रमण फैलने से बचा सकते हैं। इसलिए नासमझी न करें और टीका लगवाएं।

खबरें और भी हैं...