केंद्र सरकार के खिलाफ की नारेबाजी:नीतीश सरकार बिहार के पिछड़े व दलितों का हित नहीं चाहती : ललित

दरभंगा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कर्पूरी चौक पर प्रदर्शन करते राजद नेता अफजल अली खान व कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
कर्पूरी चौक पर प्रदर्शन करते राजद नेता अफजल अली खान व कार्यकर्ता।
  • जातीय जनगणना के लिए राजद कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय पर किया प्रदर्शन, केंद्र सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

राष्ट्रीय जनता दल के द्वारा निर्धारित राज्यव्यापी कार्यक्रम के तहत शनिवार को जातीय जनगणना कराने, आरक्षण में बैकलॉग व्यवस्था लागू करने तथा मंडल आयोग की सभी सिफारिशों को लागू कराने के लिए राजद कार्यकर्ताओं ने कर्पूरी चौक से पोलो मैदान स्थित धरना स्थल तक प्रदर्शन किया।
राजद नेताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी मांगों को लेकर नारे लगाते हुए जाति जनगणना कराने व आरक्षण में बैकलॉग व्यवस्था लागू करने का मांग किया। साथ ही राजद नेताओं ने डीएम के माध्यम से देश के प्रधानमंत्री को आरक्षण की मांगों का ज्ञापन सौंपा। धरना स्थल पर जिलाअध्यक्ष उमेश राय की अध्यक्षता में हुई सभा को संबोधित करते हुए मुख्य सचेतक एवं दरभंगा ग्रामीण विधायक ललित यादव ने कहा कि 7 अगस्त को पूरे बिहार में सामाजिक दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। नीतीश कुमार बिहार के पिछड़े, दलितों का हित नहीं चाहती। जिस कारण से आज ये आंदोलन पूरे बिहार में किया जा रहा है। जातीय जनगणना केंद्र सरकार क्यों नहीं कराना चाहती यह सरकार जनता के सामने अपनी बात को रखें।
राजद सड़क से सदन तक वंचितों की लड़ाई लड़ेंगे : आरके चौधरी : बहादुरपुर विधानसभा से राजद के पूर्व प्रत्याशी रहे आर के चौधरी ने कहा कि आरक्षण में बैकलॉग व्यवस्था से जितनी सीट रिक्त है उसे सरकार कब तक भरेगी और उनका लाभ तत्काल कौन ले रहे हैं यह सार्वजनिक करें। यह लड़ाई की शुरुआत है जब तक दलित पिछड़ों व शोषित को अपना हक नहीं मिलता तब तक राजद यह आंदोलन की लड़ाई सड़क से लेकर सदन तक लड़ती रहेगी।

जनता दल ने मंडल आयोग की अनुशंसा को लागू किया

अलीनगर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी विनोद मिश्र ने कहा कि आज ही के दिन 7 अगस्त 1990 में जनता दल की सरकार ने तत्कालीन प्रधानमंत्री बी पी सिंह के मंडल आयोग की अनुशंसा को लागू किया था। जिसमें आज के दिन मात्र दो अनुशंसाएं लागू है शेष सभी अनुशंसा लागू नहीं है। केंद्र सरकार के कारण दलितों व शोषित वंचित लोगों को उनका अधिकार नहीं मिल पाता। अफजल अली खान ने कहा कि नीतीश कुमार बिहार के दलित, शोषित अतिपिछड़ों के साथ धोखा कर रही हैं। अपने कुर्सी की लोभ में नीतीश कुमार बिहार के युवा वर्ग के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। मौके पर जिला प्रभारी मो. शब्बीर अंसारी, अल्पसंख्यक जिला अध्यक्ष गुलाम हुसैन चीना, पूर्व मेयर मिठू खेरिया, प्रधान महासचिव संजीत शर्मा, राजद प्रवक्ता अमित सहनी, प्रवीण यादव, महिला जिलाअध्यक्ष यास्मीन खातून, प्रकाश कुमार ज्योति, अनुसूचित जाति जिलाध्यक्ष राजा पासवान आिद थे।

खबरें और भी हैं...