पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Opinion Of Big City Headlines, Now Don't Wait For The Government's Announcement, Wait For Yourself, Follow The Lockdown, If Still Not Warned, The Situation Will Be Frightening.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रमुखाें की राय:अब सरकार की घोषणा का नहीं करें इंतजार खुद कीजिए लाॅकडाउन का पालन, यदि अब भी नहीं चेेते ताे भयावह हाे जाएगी स्थिति

दरभंगा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • संक्रमण को रोकने के लिए घरों में भी लगाएं मास्क और टीकाकरण जरूर कराएं
  • कोरोना का चेन तोड़ने के लिए कम-से-कम 15 दिनों तक लॉकडाउन की स्थिति का हो पालन

कोरोना की दूसरी लहर दिनों दिन बढ़ती जा रही है। डब्लूएचओ ने भी आगामी 15 दिनों में संक्रमण के बढ़ने की बात कही है। ऐसे में कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए शहर के बड़े अस्पतालाें के प्रमुखाें ने काेराेना के चेन काे ताेड़ने के लिए कम से कम 15 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया है। शहर के प्रमुख अस्पतालों के चिकित्सकों की माने तो कोरोना वायरस अब हवा में घुल चूकी है। शहर से लेकर गांव के अधिकांश लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। यदि लोग अब भी खुद को नहीं चेते तो आने वाले दिनों में स्थिति और भयावह बनेगी।

अब मास्क ही जीवन है, बेवजह घर से न निकलें : डॉ. रितेश कमल

पहले जल ही जीवन था लेकिन आज के मौजूदा हालात में मास्क ही जीवन है। इसलिए सभी लोग घर में रहे या काम से बाहर ऑफिस में मास्क जरूर लगाए। ये बातें शहर के चर्चित जे एम अस्पताल के डॉ. रितेश कमल ने कही। उन्होंने कहा कि कोरोना का वायरस अब हर घर में प्रवेश कर चुका है। इसलिए सभी व्यक्ति अपने घर में भी मास्क जरूर लगाए। उनका मानना है कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन जरूरी है। लॉकडाउन के लिए सरकार की घोषणा की आवश्यकता नहीं है पब्लिक खुद लॉकडाउन लगाएं और अनावश्यक घरों से नहीं निकले।

लॉकडाउन के साथ ही जिले का बॉर्डर भी हो सील : डॉ. गौरी शंकर

श्री विशुद्धानंद हॉस्पिटल के निदेशक डॉ. गौरी शंकर झा ने कहा कि 15 दिन का कंप्लीट लॉकडाउन होना अति आवश्यक है। क्योंकि कोरोना के मौजूदा स्थिति को कंट्रोल करना संभव नहीं हो पा रहा है। सरकार और प्रशासन जल्द से जल्द निर्णय ले और लॉकडाउन लगाए नहीं तो स्थिति और भयावह हो जाएगी। डॉ. गौरी शंकर झा ने कहा कि लॉकडाउन के साथ ही जिला का बॉर्डर भी सील होना चाहिए। आवश्यक सेवा व आपातकालीन सेवा को छोड़ बस, ट्रेन व एरोप्लेन पर तत्काल रोक लगानी चाहिए। कोरोना की रफ्तार तेज होने से सभी प्रयास कम पड़ने लगे हैं।

लॉकडाउन जरूरी, अब संभलने वाला नहीं है हालात : डॉ. नीरज

हेरिटेज अस्पताल के निदेशक डॉ. नीरज प्रसाद ने कहा कि कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए अब 15 दिनों का कंप्लीट लॉकडाउन ही एक उपाय है। लॉकडाउन के अलावे अब कोरोना को नियंत्रित करने का कोई भी प्रभावी उपाय संभव नहीं है। क्योंकि कोरोना का वायरस अब पूरी तरह से हवा में घुल चुका है। यदि ऐसी स्थिति रही तो आने वाले दिनों में यह संभलने वाला नहीं है। अगर 50 हॉस्पिटल में भी कोरोना मरीजों की चिकित्सा व्यवस्था कर दिया जाए तो स्थिति संभलने वाला नहीं है।

लॉकडाउन लगने से चेन टूटेगा : डॉ. मृदुल

आई बी स्मृति आरोग्य सदन के संचालक डॉ.मृदुल शुक्ला का कहना है कि अभी का जो माहौल है उसमें जल्द से जल्द लॉकडाउन लगना चाहिए। क्योंकि मौजूदा हालात नियंत्रित करने के लिए इससे बेहतर व कारगर कोई कार्य नहीं है। लॉकडाउन से कोरोना का चेन टूटेगा और संक्रमण व मृत्यु दर में गिरावट आएगी।

टीकाकरण सबसे जरूरी : डॉ. शाही

डॉ. बीबी साही ने कहा कि कोरोना की बढ़ती रफ्तार को रोकने के लिए लॉकडाउन के साथ-साथ टीकाकरण जरुरी है। क्योंकि अब हवा में भी कोरोना वायरस फैल रहा है। लॉकडाउन से वायरस थोड़ा रुकेगा लेकिन टीकाकरण से हमारे शरीर में कोरोना के वायरस से लड़ने की क्षमता बढ़ेगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें