पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दरभंगा-सकरी-हरनगर रेल खंड:आंदोलनकारियों ने राेकी ट्रेन, ताे रेलवे ने ट्रेनाें का परिचालन ही कर दिया बंद

दरभंगा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
श्रमदान व जनसहयोग से निर्मित मां जगदम्बा हाॅल्ट का भवन । - Dainik Bhaskar
श्रमदान व जनसहयोग से निर्मित मां जगदम्बा हाॅल्ट का भवन ।
  • रोज सैकड़ों लोगों को आंदोलन की चुकानी पड़ रही भारी कीमत, पांच गुना भाड़ा देकर बस व टेंपाे से यात्रा करने काे विवश

दरभंगा-सकरी-हरनगर रेलखंड पर विगत 22 दिनों से परिचालन ठप है। लोगों को जिला मुख्यालय दरभंगा जाने में ट्रेन से मात्र 10 रुपए किराया लगता था। अब उन्हें 50 रुपए लग रहा है। यह स्थिति तब से है, जब 30 जून को मां जगदंबा हाॅल्ट पर गाड़ी ठहराव के लिए लोगों ने आंदाेलन किया था और ट्रेन को रोक दिया था। बताया जाता है कि उसी दिन से रेलवे ने इस रेलखंड पर ट्रेनाें का परिचालन ही बंद कर दिया। नतीजतन लाेगाें काे तब से अांदाेलन की भारी कीमत चुकानी पड़ रही है। इस रेलखंड पर तीन जाेड़ी सवारी ट्रेनें चलती थी। लाॅकडाउन के बाद एक जाेड़ी ट्रेन, 05591 अप जाे दरभंगा से हरनगर को जाती थी और गाड़ी नंबर 05592 डाउन जाे हरनगर से दरभंगा को अाती थी, उसे बंद कर दी गई। लोगों को आंदोलन करना महंगा पड़ रहा है।

बेनीपुर के नवादा, रामपुर, भगवतपुर समेत दर्जनाें गांवाें के लाेगाें काे आने-जाने में हाेती थी सुविधा

दरभंगा-सकरी-हरनगर रेल खंड पर ट्रेनाें के परिचालन से बेनीपुर प्रखंड के नवादा, रामपुर, भगवतपुर, आशापुर, बेलौन, मकड़मपुर, रमौली, बग्घी, लहरपुर, घोंघिया, लक्ष्मणपुर, मझौड़ा, बहेड़ा, धरौड़ा, अलीनगर प्रखंड के मोतीपुर, अधुलुआम, रामपुर उदय, सूहथ, तुमौल, लहटा, मनीगाछी प्रखंड के महथौर, शंकरपुर आदि गांव के लोगों को यातायात में सुविधा होगी। लोगों का कहना है कि अगर उक्त हाॅल्ट पर गाड़ी का ठहराव हो तो यह सबसे अधिक राजस्व इस हाॅल्ट से प्राप्त होग। लेकिन अभी बेनीपुर एवं बिरौल अनुमंडल क्षेत्र के लोगों को रेल सेवा ठप रहने के कारण पांच गुना किराया देकर यात्रा करने को मजबूर हैं।

तकनीकी कारणों से रोक गया है परिचालन

^दरभंगा-सकरी-हरनगर रेल खंड पर तकनीकी कारणों से ट्रेनों का परिचालन बंद है। इसकी एक प्रमुख वजह इस रेलखंड से राजस्व की बहुत कम प्राप्ति हाेती है। वैसे ट्रेनों के परिचालन पर विचार किया जा रहा है।
- सरस्वती चंद्र, सीनियर डीसीएम, पूमरे समस्तीपुर

खबरें और भी हैं...