पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना में फैसला:आमदनी की राशि वेतन व पेंशन मद में होगी व्यय

दरभंगा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महात्मा गांधी कॉलेज के शासी-निकाय ने एक ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए कोरोना के विषम काल में अपनी आय का नब्बे प्रतिशत शिक्षकों एवं कर्मचारियों के वेतन तथा पेंशन पर खर्च करने का निर्णय लिया है। पिछले सत्र में भी कॉलेज की आमदनी का 83 प्रतिशत वेतनादि पर खर्च किया गया था।

शासी निकाय की एक सामान्य बैठक में रविवार को यह निर्णय लिया गया। सचिव डॉ. हरि नारायण सिंह ने बताया कि नगर विधायक सह शासी निकाय के अध्यक्ष संजय सरावगी की अध्यक्षता यह निर्णय लिया गया। जिसमें शिक्षकों का वेतन 6000 से बढ़ाकर 7560 रुपए, तृतीय वर्ग के कर्मचारियों के वेतन में 1050 वृद्धि करते हुए 5250 से 5675 रुपए व चतुर्थवर्गीय कर्मियों के वेतन में 840 बढ़ाकर 4305 करने का निर्णय लिया गया। यह वृद्धि लगभग पच्चीस प्रतिशत से अधिक है। इसके अलावा अध्यक्ष की विशेष पहल पर पेंशनधारियों के पेंशन में 15 प्रतिशत की वृद्धि की गई। अब वेतन-पेंशन को मिलाकर वार्षिक व्यय 55 लाख लगभग होता है। यह सालाना 60 लाख आमदनी का 90 प्रतिशत से अधिक होता है।

इस वृद्धि का विवि प्रतिनिधि डाॅ. अजीत कुमार सिंह, विशेष आमंत्रित डाॅ. अजीत कुमार चौधरी, प्राचार्य डॉ. रामदेव चौधरी, शिक्षक प्रतिनिधि डाॅ. मदन लाल केवट ने समर्थन किया। सचिव डाॅ. सिंह ने बताया कि शिक्षाकर्मियों के हित में अधिक से अधिक जो संभव था, वह किया गया है। अध्यक्ष के प्रस्ताव पर जिन शिक्षकों को अनुदान देय नहीं था, वैसे चार शिक्षकों को कॉलेज कोष से दस- दस हजार आर्थिक सहायता दी जायगी। साथ ही जीबी ने कोरोना से मरने वाले को 25 हजार, कोरोना संक्रमित को इलाज के 10 हजार व 5 हजार रुपया देने के पूर्व निर्णय को भी अनुमोदित कर दिया। प्राचार्य डॉ. चौधरी ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

खबरें और भी हैं...