पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध मार्च:जल-जमाव से आजिज ग्रामीणों ने मुखिया एवं पंचायत सचिव पर कार्रवाई की मांग को लेकर की नारेबाजी

सिंहवाड़ा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिंहवाड़ा उत्तरी में जलजमाव को लेकर आक्रोश जताते ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
सिंहवाड़ा उत्तरी में जलजमाव को लेकर आक्रोश जताते ग्रामीण।
  • ग्रामीणों का आरोप- कमीशन नहीं मिलने से वार्ड क्रियान्वयन व प्रबंधन समिति को नहीं दी जा रही राशि

प्रखंड की सिंहवाड़ा उत्तरी पंचायत के वार्ड सात में लगे जलजमाव से आजिज ग्रामीणों ने रविवार को विरोध मार्च निकालकर नारेबाजी की। ग्रामीण मुखिया व पंचायत सचिव के विरुद्ध कार्रवाई की मांग करते हुए नाराजगी व्यक्त कर रहे थे। बताया जाता है कि मोहल्ले की एक महिला दवा लेकर घर जा रही थी। सड़क पर जलजमाव के कारण वह फिसलकर गिर पड़ी।

जिससे लोग आक्रोशित हो उठे। स्थानीय पूर्व पैक्स अध्यक्ष अनिल महाराज के नेतृत्व में लोगों ने जमकर नारेबाजी की। उन्होंने बताया कि काली गेट से श्यामचंद्र ठाकुर के घर तक नाली निर्माण नहीं होने से जलजमाव की समस्या बढ़ती ही जा रही है। उन्होंने बताया कि सात निश्चय योजना से नाली निर्माण के लिए फरवरी में ही प्रशासनिक स्वीकृति मिल गई थी। लेकिन पंचायत सचिव व मुखिया वार्ड क्रियान्वयन एवं प्रबंधन समिति के बैंक खाते में राशि ही नहीं भेज रहे हैं। ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि कमीशन की राशि पूर्व में नहीं देने के कारण योजना की राशि वार्ड प्रबंधन एवं क्रियान्वयन समिति के खाते में निर्गत नहीं की जा रही है। विरोध कर रहे ग्रामीण राजेश राउत, दिलीप कुमार,राहुल कुमार, रामचंद्र ठाकुर, राजेश राउत, विनोद सहनी, सुरेश महाराज आदि ने बताया कि जलजमाव होकर घर तक पहुंचने में लोग पानी में गिर कर चोटिल होते जा रहे हैं।

सात निश्चय से छह माह पूर्व ढलाई की गई सड़क टूटने के कारण पिछले वर्ष ग्रामीणों ने सड़क जाम कर आंदोलन किया था। मौके पर पहुंचे तत्कालीन बीडीओ ने कार्रवाई का भरोसा भी दिया था। लेकिन सड़क टूटी ही रह गई। वहीं अनिल महाराज ने बताया कि योजना के क्रियान्वयन एंव राशि हस्तांतरित करने के लिए बीडीओ कार्यालय में लिखित शिकायत की गई है। अगर शीध्र ही जलजमाव से लोगों को निजात नही मिली तो आंदोलन को तेज किया जाएगा। वहीं इस संबंध में पूछे जाने पर मुखिया अविनाश सहनी ने बताया कि कमीशन मांगने का आरोप बेबुनियाद व राजनीति से प्रेरित है। पंचायत के बैंक खाते में राशि नही रहने के कारण वार्ड क्रियान्वयन समिति को राशि हस्तांतरित करने में विलंब हो रहा है। राशि उपलब्ध होते ही हस्तांतरित कर दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...