पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्यक्रम:जमींदारी बांध की मजबूती और उसकी देखरेख के लिए जल्द ही नीति बनाएगा जल संसाधन विभाग : संजय झा

दरभंगा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सुरक्षात्मक कार्यों का स्थल पर निरीक्षण करते जल संसाधन मंत्री संजय झा। - Dainik Bhaskar
सुरक्षात्मक कार्यों का स्थल पर निरीक्षण करते जल संसाधन मंत्री संजय झा।
  • एयरपोर्ट परिसर के अंदर जाकर जलजमाव से निजात की दिशा में किए जा रहे कार्यों का किया निरीक्षण

जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने बुधवार को केवटी प्रखंड में तथा दरभंगा एयरपोर्ट परिसर के अंदर विभाग द्वारा कराए गए विभिन्न बाढ़ सुरक्षात्मक कार्यों का स्थल निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जमींदारी बांध दशकों पुराने हो गए हैं। जमींदारी बांध के रख रखाव का कार्य जल संसाधन विभाग के अंतर्गत नहीं था। 2014 में मुख्यमंत्री द्वारा बाढ़ अवधि में इनके देखरेख करने का निर्देश विभाग को दिया गया ताकि आम जनता को कोई परेशानी नहीं हो। मिथिला में बाढ़ के प्रभाव को कम करने के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर जल संसाधन विभाग तत्परता से काम कर रहा है। विभाग के अधीन आने वाले सभी तटबंध सुरक्षित हैं और जल संसाधन विभाग की टीमें सभी तटबंधों पर चौबीसों घंटे सतत निगरानी कर रही है। मंत्री ने कहा कि बिहार में नदी जल के बेहतर प्रबंधन के लिए छोटी नदियों की उड़ाही और उन्हें आपस में जोड़ने की संभावनाओं पर विभाग काम कर रहा है। मिथिला में कई छोटी नदियों की उड़ाही जल संसाधन विभाग द्वारा कराई गई है। उन्हाेंने केवटी प्रखंड के करजापट्टी में विभाग द्वारा किए गए फ्लड फाइटिंग वर्क का स्थल निरीक्षण किया। इस कार्य से लगभग 1400 घर सुरक्षित हुए हैं, जिनसे लगभग 7000 लोगों को लाभ मिला है। एयरपोर्ट परिसर के अंदर 10 एंटी फ्लड स्लुइस गेट बना रखा है | इसके बाद वे दरभंगा एयरपोर्ट परिसर में गए, जहां उन्होंने दरभंगा एयरपोर्ट काे जलजमाव से निदान के लिए एयरपोर्ट परिसर के अंदर चल रहे विभागीय कार्यों का निरीक्षण किया और एयरफोर्स के अधिकारियों, डीएम और विभागीय अधिकारियों के साथ इस समस्या के समाधान के लिए विस्तृत चर्चा की। एयरपोर्ट परिसर में रनवे के बाहर बारिश ज्यादा होने पर जल जमाव की स्थिति पैदा हो जाती है। इसके निदान के लिए जल संसाधन विभाग ने एयरपोर्ट परिसर के अंदर 10 एंटी फ्लड स्लुइस गेट बना रखा है, लेकिन गेट के बाहर बहने वाली नदी में जलस्तर अधिक हो जाने पर एयरपोर्ट परिसर के अंदर का पानी बाहर निकालने में परेशानी होती है। इस समस्या के तुरंत निदान के लिए मुख्य अभियंता यांत्रिक को संप वेल बना अधिक पॉवर का पॉवर लगा कर पानी बाहर निकलने को कहा गया। यह कार्य कल से शुरू होगा। साथ ही इसके स्थाई निदान के लिए कंटूर सर्वे कर प्लान बनाने का निर्देश मंत्री ने दिया। साथ-साथ एयरपोर्ट के चारों ओर स्थित बांध को मजबूत बनाने और उस पर पक्की सड़क बनाने के लिए प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश जल संसाधन विभाग के वरीय अधिकारियों को दिया। जल संसाधन मंत्री के साथ केवटी के विधायक मुरारी मोहन झा, डीएम एसएम त्यागराजन, विभाग से नंद कुमार झा, चीफ इंजीनियर, प्लानिंग एंड मॉनिटरिंग, हेडक्वार्टर, लक्ष्मण झा, एसई फ्लड आदि उपस्थित थे।

बाढ़ से तबाही काे देखते हुए मंत्री मदन सहनी ने दी 9 नाव

बाढ़ से तबाही को देखते हुए बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र के जदयू विधायक सह समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी ने मुख्यमंत्री विकास योजना के अंतर्गत 5 पंचायत में 9 नाव दिया गया है। जिसमें उघरा महपारा पंचायत में 3, विऊनी अंदामा 1, तारालाही 1, अझोल 2, मनियारी 2 नाव दिया गया है। जिससे स्थानीय लोगों को आवागमन करने में सुविधा मिल रहा है। जिसमें मंत्री मदन सहनी के निर्देश पर जदयू के बहादुरपुर प्रखंड के अध्यक्ष रामनरेश भगत ने उक्त पंचायतों में नाव वितरण किया है। वहीं, बहादुरपुर प्रखंड क्षेत्र में आए बाढ़ से तबाही को देखते हुए प्रखंड प्रशासन ने 14 पंचायतों को आंशिक के लिए चयन किया गया है। जिसमें बसतपुर, उघरा महपारा, विऊनी अंदामा, टिकापट्टी देकुली, मैकना बैदा, पिररी, कुशोथर, बरुआरा, वाजितपुर, जलवार, सिमरा-नेहालपुर, अझोल, तारालाही, मनियारी इन सभी पंचायतों के लोगों को आंशिक रूप से बाढ़ राहत दिया जाएगा। मौके पर लक्ष्मण यादव आदि भी थे। बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री संजय झा का स्वागत बुधवार को पिंडारुच व आसपास के भाजपा कार्यकर्ताओं ने एसएच 75 पर गोपालपुर के समीप इनके काफिला को रोककर किया। मंत्री मधुबनी जिला के बेनीपट्टी एवं बिस्फी से बांध का निरीक्षण और बाढ़ पीड़ितों से मिलकर करजापट्टी जा रहे थे।

खबरें और भी हैं...