पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नप की लापरवाही:टाउन की बिहारी बस्ती में गंदे पानी के खुले नाले में डूबने से दो चचेरे भाइयों की मौत

हनुमानगढ़23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नाला निर्माण किया लेकिन जिम्मेदार जनप्रतिनिधियों और अफसरों ने खुले नाले पर फेरोकवर नहीं रखवाए

टाउन के वार्ड 46 बिहारी बस्ती में बुधवार को दो बच्चों की गंदे पानी के खुले नाले में डूबकर मौत हो गई। मृतक चचेरे भाईयों की उम्र 7 से 8 वर्ष के बीच है। जेसीबी मशीन बुलाकर दोनों मृतक बच्चों के शव नाले से बाहर निकाले गए। यह बच्चे खेलते हुए घर से निकले थे जिनके शव मिलने पर परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

जानकारी के अनुसार राजन पुत्र बबलू दास व देव पुत्र श्रवणदास निवासी वार्ड 46 सुबह करीब 11 बजे खेलते-खेलते अचानक गायब हो गए। दोनों बच्चे वापस नहीं लौटे तो परेशान परिजन बस्ती में तलाश में जुट गए। शाम 4 बजे तक दोनों बच्चों का पता नहीं चला। इस बीच पंपिंग स्टेशन के पास लाइब्रेरी के पीछे पहुंचकर खुले नाले में कुछ दूरी तक डंडा घुमाकर देखा तो एक बच्चा ऊपर आ गया। इसके बाद जेसीबी मशीन बुलाकर तलाश की तो पास में ही दूसरा बच्चा भी मिल गया। यह देखकर वहां मौजूद परिजनों में कोहराम मच गया। इसमें मृतक राजन दिहाड़ी-मजदूरी करने वाले बबलूदास का इकलौता पुत्र था। एक साथ दो घरों के चिराग बुझने पर रोते-बिलखते परिजनों को देख हर कोई परिषद की लापरवाही को कोसता नजर आया। दोनों मृत बच्चों को नाले से निकाल जिला अस्पताल ले जाया गया जहां पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। नप आयुक्त पूजा शर्मा का कहना है कि घटना की जानकारी मिली है। घटना दुखद है। घटना के कारणों की जांच कराई जा रही है। जहां तक नाला खुला होने की समस्या है उसे जल्द फेरोकवर लगाकर हल किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...