पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परेशानी:हर चुनाव में हसनपुर में डिग्री स्तरीय काॅलेज खोले जाने का आश्वासन दे जाते हैं नेताजी

हसनपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कॉलेज नहीं होने से छात्राओं को उच्च शिक्षा ग्रहण के लिए जिला मुख्यालय जाना पड़ता है

विधानसभा क्षेत्र में एक भी डिग्री स्तरीय महाविद्यालय नहीं है। पिछले तीन पंचवर्षीय से विधानसभा चुनाव में डिग्री महाविद्यालय खोले जाने का मुद्दा प्रमुख रूप से उभर कर सामने आता है। मुद्दे को वोट का माध्यम समझ कर हर दल के प्रत्याशी डिग्री महाविद्यालय खोले जाने का आश्वासन देते आ रहे हैं। लेकिन तीन पंचवर्षीय अर्थात 15 सालों बाद भी हसनपुर विधानसभा क्षेत्र में डिग्री महाविद्यालय खोले जाने के लिए कोई ठोस पहल नहीं किया जा सका है।

इसका परिणाम है कि आज भी विधानसभा क्षेत्र के हसनपुर, बिथान व सिंघिया प्रखंड के 38 पंचायतों के छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए रोसड़ा अनुमंडल या फिर जिला मुख्यालय समस्तीपुर स्थित डिग्री स्तरीय महाविद्यालय की ओर रुख करना पड़ता है। इसके लिए छात्र-छात्राओं को प्रतिदिन ट्रेन या बस से करीब 80 से 100 किमी दूरी का सफर तय करना पड़ता है। इस दौरान खास तौर पर छात्राओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

सुरक्षा के दृष्टिकोण से छात्राओं काे अधिक परेशानी
अभिभावक सुरक्षा की दृष्टि से छात्राओं को घर से दूर नहीं भेजना चाहते हैं। इससे छात्राओं को उच्च शिक्षा से वंचित भी रहना पड़ जाता है। इस बार के विधानसभा चुनाव में डिग्री महाविद्यालय खोले जाने का मुद्दा एक बार फिर से चुनावी मुद्दा बनकर सामने आ चुका है। खासकर युवा वर्ग के मतदाताओं के मन में एक बात निश्चित रूप से बैठ चुका है कि, जिस दल के प्रत्याशी डिग्री महाविद्यालय खोलने का काम करेंगे, युवा वोट उन्हीं को मिलेगा। डिग्री महाविद्यालय खोले जाने का मुद्दा उभर कर सामने आने के बाद राजनीतिक दल से टिकट लेकर चुनावी मैदान में जोर आजमाइश कर रहे प्रत्याशियों ने भी अपने वादों में डिग्री महाविद्यालय खोले जाने का मुद्दा शामिल कर लिया है। जनसंपर्क के दौरान भी प्रत्याशियों द्वारा मतदाताओं को लुभाने के लिए डिग्री महाविद्यालय खोले जाने की बात कही जा रही है।

यदि पिछले पंचवर्षीय योजना में किए गए कार्यों की बात लाई जाए तो सीटिंग विधायक द्वारा हसनपुर विधानसभा में डिग्री महाविद्यालय खोले जाने को लेकर विधानसभा सत्र में आवाज उठाया चुका है। अब मतदाताओं के मन में इस बात को लेकर उठापटक चल रही है कि आखिर किस प्रत्याशी को वोट दिया जाए जो डिग्री महाविद्यालय खोले जाने के लिए ठोस पहल कर सकें। मतदाता अपना वोट डिग्री महाविद्यालय खोले जाने के मुद्दे को लेकर देना चाहते हैं। इस बार के विधानसभा चुनाव में वे अपना वोट बर्बाद नहीं करना चाहते। अब देखना यह है कि यह इस विधानसभा चुनाव के बाद अगले पंचवर्षीय में हसनपुर विधानसभा क्षेत्र में डिग्री महाविद्यालय खोला जाता है, तो इसका श्रेय किसे मिलने वाला है। यह चुनाव परिणाम पर ही निर्भर है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें