पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जांच की मांग:प्रमोद के हत्यारे पुलिस की गिरफ्त से बाहर एसएचओ बाेले- अपराधी जल्द पकड़े जाएंगे

जयनगर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीपीआईएम के राज्य कमेटी सदस्य भूषण साह ने घटना की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है

प्रमोद ठाकुर की हत्यारे अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। 11 सितम्बर के शाम अज्ञात अपराधियों ने प्रमोद की निर्मम हत्या उनके घर मे ही गर्दन रेत कर कर दिया। किराये पर रह रहे व्यक्ति ने बताया की एक बाइक पर सवार दो व्यक्ति प्रमोद से मिलने आया था। काफी देर बाद वह दोनों व्यक्ति बाइक पर सवार होकर निकल गया। कुछ देर के बाद जब भोजन देने उनके रूम में गये तो देखते ही दिल दहल गया। प्रमोद का गर्दन कटा हुआ था।

किरायेदार और स्थानीय लोग को पूर्ण रूप से आशंका है की बाइक सवार व्यक्ति जो उनसे मिलने आये थे वही प्रमोद का हत्यारा है। वैसे पुलिस इस मामले को गम्भीरता से ली है। और हर एंगल से मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। हत्या के आरोपी नही पकड़े जाने एवं हत्या की गुत्थी नही सुलझने को लेकर लोगो मे पुलिस प्रशासन के खिलाफ नाराजगी देखा जा रहा है। करीब 3 साल पूर्व मृतक प्रमोद घर के सामने ही अज्ञात अपराधियों ने शाम के समय ही व्यवसायी रामबिलास कपड़ी को गोली मारकर हत्या कर दिया था। पुलिस इस मामले में भी अभी न अपराधियों को गिरफ्तार कर पाई है और न ही हत्या की गुत्थी सुलझा पायी है। घात लगाये अपराधियों ने गोली मारकर फरार हो गया था। मृतक प्रमोद ठाकुर के घर से करीब 600 मीटर की दूरी पर मृतक रामचन्द्र कपड़ी का घर है। तीन साल बाद इसी जगह पर अज्ञात अपराधियों ने पुरोहित प्रमोद ठाकुर (45) को उनके घर मे तेज हथियार से गला रेत कर हत्या कर दिया है। पुलिस इन हत्या के मामले में न ही हत्यारा तक पहुंच पायी है और न ही हत्या की गुत्थी सुलझा पाई है।

खबरें और भी हैं...