पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अच्छी पहल:दहेज लेने वाले के यहां निकाह में नहीं जाएंगे इमाम

झंझारपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • झंझारपुर मदरसा चौक स्थित बड़ी मस्जिद में मौलानाओं की में बैठक में लिए गए निर्णय

ससी भी नेक कार्य या निकाह, व मिलाद में डीजे नहीं बजना चाहिए। वहीं निकाह में दहेज भी देना-लेना जुर्म है। इसपर प्रतिबंध लगेगा। उक्त बातें झंझारपुर मदरसा चौक स्थित बड़ी मस्जिद में आयोजित मौलानाओं की एक बैठक में झंझारपुर नगर पंचायत के निम्बराने कमेटी तंजीम इसलाहे मिल्लत के अध्यक्ष मौलाना शाहिद रजा ने फरमाया है। बैठक की अध्यक्ष्ता सचिव फैयाल आलम ने की। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि निकाह व मिलाद में डीजे बजाना गुनाह और जुर्म भी है। मानसिक तनाव बना रहता है। वहीं कानूनन जुर्म भी है।

डीजे पर लगातार अश्लील गानों का किया जाता है प्रदर्शन

वहीं डीजे पर लगातार अश्लील गानों का प्रदर्शन हुआ करती है। जो कहीं से कबूल नहीं है। इससे हम सबों को बचना चाहिए। तभी एक स्वस्थ समाज और स्वस्थ भविष्य की कल्पना किया जा सकता है। वक्ताओं ने कहा कि तिलक, दहेज रश्म को भी प्रतिबंध करना है।
इन नियमों को हर व्यक्तियों को पालन करना चाहिए

वैसे सरकारी तौर पर भी प्रतिबंध लगा हुआ है। इन सभी नियमों को हर व्यक्तियों को पालन करना चाहिए। दहेज तिलक समाज और परिवार के लिए एक बहुत बड़ा गुनाह है। बैठक में शामिल लोगों ने निर्णय लिया कि अगर कोई भी लोग निकाह में तिलक दहेज लेंगे और निकाह में डीजे बजाएंगे तो उनके यहां इमाम पढ़ाने के लिए नहीं जाएंगे। अगर बाहर से कोई भी पढ़ाने के लिए आएंगे तो विरोध किया जाएगा। बैठक में मौलाना के अलावा मौलाना सयैद आलम कासमी, मौलाना ऐहशान कासमी, मौलाना अंजार थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें