पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आस्था:देवशयनी एकादशी के बाद सभी मांगलिक कार्यों पर लगेगी राेक

मधेपुरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 18 जुलाई काे आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की नवमी काे विवाह का आखिरी अबूझ मुहूर्त

देवशयनी एकादशी के साथ सारे मांगलिक कार्यों पर 20 जुलाई से प्रतिबंध लग जाएगा। इससे ठीक पहले 18 जुलाई को आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को भड़लो नवमी मनाई जाएगी। गुप्त नवरात्रि के समापन और देवशयनी की शुरुआत से पहले का यह आखिरी मुहूर्त है।

अबू मुहूर्त होने की वजह से पूरे दिन किसी भी वक्त विवाह किया जा सकता है। ज्योतिषाचार्य पंडित मनोज कुमार मिश्र ने बताया कि जुलाई में विवाह का आखिरी मुहूर्त तीन तारीख को था। 18 तारीख को पड़ रही भड़ली नवमी एक अबूझ मुहर्त है। इसमें कोई भी शुभ कार्य किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि नवमी तिथि शुभ मानी गई है।

खबरें और भी हैं...