पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सख्ती:अपने-अपने क्षेत्र में कम से कम दो बड़े शराब माफियाओं को करें गिरफ्तार: एसपी

मधेपुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मध निषेध दिवस के मौके पर एसपी ने वीसी के माध्यम से थानाध्यक्षों को दिया टास्क

मध निषेध दिवस पर एसपी योगेंद्र कुमार ने पूरे जिले के थानाध्यक्षों काे वीडियो कांफ्रेंसिंग से टास्क दिया। एसपी ने कहा कि अपने-अपने क्षेत्र में कम से कम दो बड़े शराब तस्कर को पकड़ कर अपना तेवर दिखाएं। शराबबंदी के दो वर्ष बाद ही इसका असर कम होने लगा है। इसे देखते हुए अब पुलिस विभाग ने खासकर बड़े शराब तस्करों की गिरफ्तारी को लेकर टास्क तैयार किया है।

ताकि बाहर से बड़े पैमाने पर आ रही शराब की खेप को सीमा पर ही पकड़ लिया जाए। इसकी लगातार मॉनिटरिंग भी की जाएगी। तो दूसरी ओर पिछले शराबबंदी दिवस के बाद से पुलिस और प्रशासनिक महकमे पर कई दाग भी लगे। खुद सरकारी सेवक शराब पीने या शराब तस्कर को मदद पहुंचाने के मामले में कार्रवाई की जद में आए हैं।

पुलिस और उत्पाद विभाग के द्वारा लगातार देसी शराब बनाने के अड्‌डे को ध्वस्त किया जा रहा और देसी-विदेशी शराब की बरामदगी भी की जा रही है। बावजूद शराब की होम डिलिवरी के मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में जिले की सीमाओं पर भी विशेष सख्ती बरतने की जरूरत है।

उत्पाद अधीक्षक सुरेंद्र कुमार ने बताया कि 6 मार्च से लेकर 24 नवंबर तक उत्पाद विभाग ने जिले के विभिन्न क्षेत्रों में 1832 स्थानों पर छापेमारी की। इस दौरान 290 केस दर्ज हुए और 90 लोग गिरफ्तार किए गए।

छापेमारी में जब्त शराब
छापेमारी के दौरान 5745 लीटर विदेशी, 103 लीटर बीयर, 681 लीटर देसी महुआ शराब, 3753 लीटर चुनाल शराब, और 119 क्विंटल जावा महुआ बरामद किया। इस दौरान 3 जुलाई को सिंहेश्वर थाना क्षेत्र के बैहरी से एक ट्रक और पिकअप पर लाेड 2751 लीटर और 5 जुलाई को सदर थाना क्षेत्र से एक ट्रक से 601 लीटर शराब जब्त किया गया।

निरीक्षण में चौसा से पीने के लिए शराब मंगाए थे पुलिसकर्मी
विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच अक्टूबर में एसपी योंगेंद्र कुमार चेक पोस्ट के निरीक्षण को चौसा की ओर निकले थे। उनके साथ एस्कॉट गाड़ी पर सवार रहे पुलिसकर्मी ने गोपनीय के एक सिपाही के लिए चौसा थाना से शराब की बेतल की व्यवस्था की। लेकिन एसपी को शक हो गया और पूरा मामला खुल गया। इस मामले में वहां के थानाध्यक्ष सस्पेंड किए गए और इस कांड में शामिल अन्य पुलिसकर्मी पर कार्रवाई की गई।

पुलिस का रोल महत्वपूर्ण | शराब की जब्ती को लेकर पुलिस का रोल काफी महत्वपूर्ण है। आलमनगर में एक पुराने टैंकलॉरी में भरे शराब को जब्त किया गया। पुरैनी में लावारिस कार से शराब बरामद किया गया। मठाही से एक ट्रक शराब जब्त किया गया। इसके अलावा सामान्य दिनों के साथ-साथ चुनाव के समय भी बड़ी मात्रा में शराब की बरामदगी की गई।

डीटीओ का क्लर्क शराब पीने में धराए | जुलाई में मधेपुरा डीटीओ के हेड क्लर्क सहरसा निवासी को शराब के नशे में पुलिस ने गिरफ्तार किया। पहले तो गुपचुप दबाने के लिए उनके विभाग के कई कर्मी ने भी प्रयास किया। केस भी हुआ और डीटीओ कार्यालय की बदनामी भी हुई। उदाकिशुनगंज उपकारा के एक पदाधिकारी पर भी शराब पीने में कार्रवाई हो चुकी है।

शराब तस्कर को छोड़कर किया एफआईआर घोटाला
आलमनगर में एक तस्कर को शराब के साथ गिरफ्तार किया गया। इस मामले में थाने में केस दर्ज कर मामले के अनुसंधानकर्ता भी नियुक्त कर दिया गया। लेकिन रुपए के लेन-देन के बाद उस तस्कर को भी छोड़ दिया गया। बदले में उसी एफआईआर नंबर पर एक दूसरा केस दर्ज कर दिया गया।

इस मामले को दिसंबर-2019 में दैनिक भास्कर ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था। मामले की जांच में इसका खुलासा होने पर सस्पेंशन के साथ एसपी के आदेश से इंस्पेक्टर ने तत्कालीन थानाध्यक्ष समेत अन्य पर केस भी दर्ज कराया था।

बड़े माफिया की गिरफ्तारी को दिया गया है टास्क
थानाध्यक्षों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि शराब के मामले को प्रथम प्राथमिकता में रखे। सूचना मिलने पर तत्काल कार्रवाई करें। सभी थानों को बड़े शराब माफियाओं पर भी कार्रवाई करने को कहा गया है। इसकी प्रतिदिन मॉनिटरिंग की जाएगी। एस ड्राइव भी चलाए जा रहे हैं।
योगेंद्र कुमार, एसपी, मधेपुरा

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser