पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सड़क का निरीक्षण:मानक के अनुरूप गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय में काम पूरा करें: श्याम बिहारी मीणा

मधेपुरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिहारीगंज के प्रखंड सह अंचल कार्यालय के लिए जमीन का किया निरीक्षण

डीएम श्याम बिहारी मीणा ने बुधवार को एनएच- 106, 107 और ग्वालपाड़ा-बिहारीगंज सड़क का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने ग्वालपाड़ा-बिहारीगंज सड़क निर्माण की प्रगति पर असंतोषजनक पाते हुए संवेदक को कड़ी फटकार लगाई। बुधवार को इस सड़क में आवासीय इलाके में पीसीसी ढलाई का भी काम चल रहा था। डीएम ने इसकी गुणवत्ता को भी देखा। मौके पर ही उन्होंने पथ प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता और सड़क निर्माण की संबंधित एजेंसी को उक्त सड़क का निमार्ण कार्य मानक के अनुरूप गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय सीमा के अंदर अतिशीघ्र पूर्ण कराने का निर्देश दिया।

विदित हो कि इस सड़क में दर्जनभर जगह पर काम काफी बाकी है। अधूरी बनी सड़क के अचानक से समाप्त हो जाने और गड्‌ढे के आ जाने से कई बार वाहन चालक दुर्घटनाग्रस्त होते-होते बचते हैं। रात को तो वाहन चालकों को काफी परेशानी होती है। जबकि कम समय में ग्वालपाड़ा से बिहारीगंज जाने के लिए यह रोड अतिमहत्वपूर्ण है। इसके अलावा डीएम ने एनएच- 106 पर कराए जा रहे निर्माण कार्य की भी स्थल पर समीक्षा की।

इस मौके पर एनएच के कार्यपालक अभियंता एवं संबंधित एजेंसी काे समय पर कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया। साथ ही सड़क में बने गढ्‌ढे को मोटरेबुल करने काे कहा। जबकि एनएच- 107 की समीक्षा के क्रम में उन्होंने संबंधित एजेंसी को कड़ी चेतावनी देते हुए अपना लक्ष्य प्रस्तुत करने को कहा। इसके साथ ही लक्ष्य के अनुरूप ससमय कार्य पूर्ण करने का आदेश दिया।

बिहारीगंज में जल्द शुरू होगा ब्लॉक भवन का काम
बिहारीगंज प्रखंड सह अंचल कार्यालय के नए भवन लिए चिह्नित स्थल की समीक्षा को लेकर विधायक निरंजन कुमार मेहता की मौजूदगी में डीएम श्याम बिहारी मीणा ने स्थलीय निरीक्षण किया। इस मौके पर डीएम ने आश्वस्त किया कि जल्द ही यहां प्रखंड सह अंचल कार्यालय भवन निर्माण के लिए िनयमानुसार कार्य शुरू कर दिया जाएगा। विदित हो कि तत्कालीन डीएम के द्वारा उक्त कार्यालय के लिए दो से तीन स्थल का निरीक्षण किया गया था।

तमाम कागजी प्रक्रिया भी पूर्ण कर ली गई थी। लेकिन ऐन वक्त उक्त सभी कार्यों पर ब्रेक लग गया। हालांकि उपरोक्त भवन के लिए अन्य कई स्थलों को भी देखा गया था। लेकिन उक्त जमीन सही नहीं पाई गई। बिहारीगंज बाइपास से सटे चार एकड़ से अधिक रैयती जमीन को सबसे उपयुक्त माना गया है।

उसी का निरीक्षण करने डीएम बिहारीगंज पहुंचे थे। डीएम के द्वारा उक्त जमीन का निरीक्षण किए जाने के पश्चात अब संभावना जगी है कि कई वर्षों से लंबित काम पूरा हो सकता है। इस अवसर पर एडीएम उपेंद्र कुमार, एसडीएम राजीव रंजन सिन्हा, डीपीआरओ मनीष कुमार, बीडीओ प्रकाश कुमार व सीओ नागेश कुमार मेहता सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...