पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खुलासा:बेटी के अंतरजातीय प्रेम संबंध से पार्षद पिता को था ऐतराज, इसलिए मुंह दबा मार डाला था

मधेपुरा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को प्रेसवार्ता में गिरफ्तार चालक के बारे में जानकारी देते पुलिस अधीक्षक। - Dainik Bhaskar
मंगलवार को प्रेसवार्ता में गिरफ्तार चालक के बारे में जानकारी देते पुलिस अधीक्षक।
  • आठ दिसंबर को मुरलीगंज के वार्ड-11 के पार्षद की बेटी की हत्या का मामला ऑनर किलिंग का निकला
  • छानबीन के दौरान कपड़ा और अंगूठी से हुई थी ऋतिका की पहचान
  • ड्राइवर और अन्य बाइक सवार सहयोगियों की मदद से शव को बैंगा नदी में फेंक दिया था

मुरलीगंज नपं की छात्रा ऋतिका का मामला ऑनर किलिंग का निकला। इस मामले में वार्ड-11 के पार्षद के ड्राइवर की गिरफ्तारी के बाद हत्याकांड के सारे राज से पर्दा उठ गया। ड्राइवर ने पूछताछ में अपनी संलिप्तता के साथ पूरे मामले का भी खुलासा कर दिया। दरअसल, वार्ड पार्षद के एक भाई और बहन ने अंतरजातीय प्रेम विवाह किया था। उनकी बेटी भी अंतरजातीय लड़के से प्रेम कर रही थी। इससे वार्ड पार्षद, अपनी बेटी ऋतिका से खफा चल रहे थे। पहले तो उन्होंने बेटी को कई बार समझाने का प्रयास किया, लेकिन जब बेटी जिद पर अड़ी रही तो घर में ही मुंह और नाक दबाकर उसकी हत्या कर दी। मामले को दूसरा रूप देने के लिए शव को अपने ड्राइवर व अन्य बाइक सवार सहयोगियों की मदद से बैंगा नदी में फेंक दिया। मामले को पहले अपहरण का रंग दिया। फिर दो दिन बाद शव बरामद होने पर प्रेम-प्रसंग का एंगल दिया गया। जब पुलिस की जांच शुरू हुई तो मामला ऑनर किलिंग का निकला। फिलहाल ड्राइवर को पुलिस ने पूछताछ के बाद जेल भेज दिया। जबकि ऋतिका के पिता समेत अन्य परिजन फरार बताए जा रहे हैं। आमतौर पर वाहनों में लगे जीपीएस, वाहन के कहीं होने की जानकारी देते हैं। लेकिन ऋतिका हत्याकांड में एक दिन के लिए बंद हुआ जीपीएस ने जांच की दिशा ही बदल दी। पुलिस को पुख्ता सबूत मिले हैं कि ऋतिका की हत्या पार्षद पिता अरविंद कुमार ने की है। हत्या में परिजनाें व डिंपल के निजी चालक ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। पुलिस ने मुरलीगंज निवासी चालक धीरज कुमार को गिरफ्तार कर लिया। जानकारी एसपी योगेंद्र कुमार ने मंगलवार को प्रेसवार्ता के दौरान दी।

पुलिस को भ्रमित करने के लिए कराया था केस
एसपी ने बताया कि पिता, परिजनों समेत चालक ने 8 दिसंबर 2020 की रात अपने घर में ही मुंह और नाक दबाकर ऋतिका की हत्या कर दी। पुलिस को भ्रमित करने के लिए उसके पिता ने अपहरण का केस अज्ञात के खिलाफ दर्ज कराया था। इसी बीच 10 दिसंबर की सुबह पुलिस को सूचना मिली कि बेंगा नदी के तट पर एक युवती की लाश पड़ी है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब लाश की छानबीन शुरू की कपड़ा और अंगूठी से उसकी पहचान ऋतिका के रूप में हुई। सनसनीखेज मामला रहने के कारण एसपी योगंेद्र कुमार और तत्कालीन डीएम नवदीप शुक्ला ने सदर एसडीपीओ व पुलिस पदाधिकारियों के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की जांच की और घटना के उद्भेदन के लिए सदर एसडीपीओ अजय नारायण यादव के नेतृत्व में टीम का गठन किया। अनुसंधान के प्रारंभ में पुलिस प्रेम- प्रसंग को केंद्र में रखकर छानबीन शुरू की और अप्राथमिकी अभियुक्त ऋतिका के प्रेमी आनंद को गिरफ्तार कर पूछताछ करना शुरू कर दिया। किंतु पूछताछ के बाद वैसा कुछ नहीं मिला जिससे यह स्पष्ट हो कि हत्या प्रेमी आनंद ने ही की है। पूछताछ के बाद उसे जेल भेज दिया गया।

बेटी की गुमशुदगी को ले पिता ने दिया था थाने में आवेदन
जानकारी के अनुसार 10 दिसंबर को नगर पंचायत वार्ड संख्या-11 के वार्ड पार्षद अरविंद कुमार उर्फ डिंपल पासवान ने मुरलीगंज थाने को लिखित आवेदन देकर अपनी बेटी 22 वर्षीय ऋतिक कुमारी के गुमशुदगी को लेकर थाना में आवेदन दिया था। अज्ञात शव मिलने के बाद पुलिस ने उन्हें भी शव के शिनाख्त के लिए बुलाया। मगर शव का चेहरा पहचान में नहीं आ रहा था। काफी देर बाद उसके कपड़े और अंगूठी से अंदाजा लगाया कि शव ऋतिका का ही है। चाचा अविनाश कुमार ने बताया था कि उनकी भतीजी रोज सुबह अपने पापा के साथ मॉर्निंग वॉक के लिए जाती थी। लेकिन घटना की सुबह जब उसके भाई अपनी बेटी के घर में उसे जगाने गए तो देखा कि वह वहां से गायब थी।

वैज्ञानिक अनुसंधान से पुलिस आरोपियों तक पहुंची
अनुसंधान के दौरान पाया कि डिंपल के स्कार्पियो में जीपीएस लगा है। फिर जीपीएस का वैज्ञानिक अनुसंधान शुरू किया गया। इस दौरान पता चला कि नौ दिसंबर को जीपीएस सिस्टम बंद था। इस पर पुलिस को संदेह हुआ और इसी को केंद्र में रख अनुसंधान शुरू किया गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें