पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दिया भरोसा:अतिवृष्टि को रोका नहीं जा सकता पर बाढ़ से क्षति को करेंगे कम: संजय झा

मधेपुरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते जल संसाधन मंत्री, सांसद, विधायक व अन्य। - Dainik Bhaskar
मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते जल संसाधन मंत्री, सांसद, विधायक व अन्य।
  • जल संसाधन सह जिले के प्रभारी मंत्री ने झल्लू बाबू सभागार में की समीक्षा बैठक
  • आलमनगर विस क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का पुनः टीम करेगी जांच

मधेपुरा जिले से आलमनगर विधानसभा होते हुए कुरसेला में कोसी, गंगा में मिलती है। लेकिन हाल के समय में देखा गया कि वहां से पूर्ण वेग से गंगा का निःसरण नहीं होता है। इस कारण से इस क्षेत्र में बाढ़ का पानी जमा हो जाता है। इन समस्याओं के समाधान का रास्ता खोजा जाएगा। इसे लेकर 15 अक्टूबर के बाद मैं दोबारा मधेपुरा आऊंगा। उक्त बातें जल संसाधन व जिले के प्रभारी मंत्री संजय झा ने आपदा से प्रभावित स्थित यथा बाढ़, सुखाड़ या अन्य आपदा मामलों की समीक्षा बैठक के बाद मंगलवार को सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता के दौरान कही। प्रभारी मंत्री ने बताया कि मधेपुरा जिले के आलमनगर विधानसभा क्षेत्र में हर साल बाढ़ आती है। इलाके की वस्तुस्थिति को लेकर वहां के स्थानीय विधायक नरेंद्र नारायण यादव ने सीएम से भी भेंट की थी। इस मामलों को देखते हुए एक कमेटी बनाई गई है, जो प्रभावित क्षेत्र का पुनः दौरा कर क्षति का आकलन करेगी। उस रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अतिवृष्टि के कारण फसल की भी क्षति हुई थी। इसे लेकर भी जांच कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिछले दिनों खुद भी बाढ़ को लेकर समीक्षा की थी। इसके बाद सभी जिले के प्रभारी मंत्री को भी जिलों में जाकर समीक्षा करने को कहा था। इसी आलोक में समीक्षा की गई। उन्होंने कहा कि चार दिन के अंदर समीक्षा की रिपोर्ट उन्हें सौंपी जाएगी।

जागरूकता से होगा जनसंख्या पर नियंत्रण: उपेंद्र कुशवाहा
प्रेसवार्ता में मौजूद जदयू संसदीय दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कठोर कानून लाने की जरूरत नहीं है। इसमें कमी शिक्षा और जागरूकता से आएगा। उन्होंने कहा कि जदयू का स्टैंड साफ है। अभी नरेंद्र मोदी के रूप में प्रधानमंत्री हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर जनसंवाद यात्रा कर रहे हैं। इसके माध्यम से जनता की समस्या और आकांक्षाओं से रूबरू हो रहा हूं। यात्रा समाप्त होने पर उन्हें फीडबैक दिया जाएगा।

जदयू कार्यकर्ताओं ने किया मंत्री का जोरदार स्वागत
एक ही दिन जदयू के दो कद्दावर नेताओं के आगमन से मधेपुरा में पार्टी के नेताओं में जबरदस्त जोश दिखा। मधेपुरा की सीमा में प्रवेश करने के साथ ही कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। इस दौरान सुपौल के सांसद दिलेश्वर कामत, विधायक नरेंद्र नारायण यादव, जदयू के प्रदेश प्रवक्ता निखिल मंडल, जिलाध्यक्ष मंजू देवी, सांसद प्रतिनिधि प्रो. विजेंद्र यादव, अक्षय झा, अशोक चौधरी, प्रो. सत्यजीत यादव, दीपक यादव व अन्य मौजूद थे।

मेडिकल कॉलेज की कमियों को एक सप्ताह में दूर कर लिया जाएगा
मधेपुरा जिले से गुजरने वाले एनएच- 106 और 107 की धीमी गति से चल रहे निर्माण के सवाल पर मंत्री ने कहा कि इस मामले में बैठक समाप्त होने के बाद ही आरसीडी विभाग के सचिव से कहा गया है। आने वाले समय में इसमें गति भी आएगी और निर्माण का कार्य भी पूरा होगा। उन्होंने कहा कि बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त हुई सड़कों को तत्काल मोटरेबल करने को कहा गया है। साथ ही पानी निकलने के बाद टूटे स्थानों पर निर्माण भी कराया जाएगा। मंत्री ने कहा कि इस इलाके के लिए जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज वरदान के रूप में है। अगर कोसी के क्षेत्र में बेहतरीन कार्यों की गिनती होगी, तो उसमें मेडिकल कॉलेज का नाम सबसे ऊपर आएगा। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज की कुछ कमियां सामने आई है, जिसे एक सप्ताह में दूर कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिले में लगभग 13 लाख लोगों को टीका लगाया जाना है। इसमें सात लाख लोगों को टीका लगाया जा चुका है। दिसंबर तक में शेष 6 लाख लोगों को भी टीका लगाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...