पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ग्राहकों को दी जा रही सूचना:8 बैंकों के विलय होने से जिले के 15 हजार से अधिक खाताधारी प्रभावित

मधेपुराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देना बैंक और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ाैदा, कॉर्पोरेशन बैंक और आंध्रा बैंक का यूनियन बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक का पंजाब नेशनल बैंक, सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक और इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय एक अप्रैल से हाे चुका है। जिसकी पुष्टि पंजाब नेशनल बैंक के मैनेजर सुमित कुमार ने की। इसके संबंध में अधिकांश ग्राहकों काे जानकारी नहीं है। बैंक पहुंचने पर उनको जानकारी दी जा रही है।

बैंक पदाधिकारियों द्वारा बताया जा रहा है कि आने वाले समय में आपका पुराना चेकबुक और पासबुक काम नहीं आएगा। इसलिए नए बैंक के हिसाब से सब कुछ नया बनाना पड़ेगा। ग्राहकों को परेशानी न हो इसलिए फिलहाल नए डेबिट और क्रेडिट कार्ड लेने तक पुराने कार्ड का उपयोग करने का समय 30 जून तक दिया गया है। विलय हुए बैंकों की ओर से सूचना दी जा रही है कि पुराना चेक 30 जून तक ही वैध रहेगा। ग्राहकों के खाता संख्या तथा आईएफएससी कोड भी बदल जाएंगे। ग्राहकों को शाखाओं में जाकर नई चेकबुक आदि लेना होगा। ग्राहकों को अपनी केवाईसी अपडेट करानी होगी। विलय हुए बैंकों की जिले में 15 हजार से अधिक ग्राहक हैं।

वह सब कुछ जाे बैंक के ग्राहक जानना चाहते हैं
मैनेजर सुमित कुमार ने बताया कि विलय के बाद खाताधारकों को बैंक जाकर अपनी मौजूदा पासबुक को नई पासबुक में बदलवाना होगा। खाता संख्या तथा आईएफएसी कोड भी बदल सकता है। क्रेडिट और डेबिट कार्ड भी नया मिलेगा। एफडी तथा बैंक लोन के दरों में कोई परिवर्तन नहीं होगा। सभी जानकारियों के लिए मैनेजर से बात करना बेहतर है। ताकि आगे चलकर किसी तरह की परेशानी से आप बच सकें।

खबरें और भी हैं...