पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:300 की जगह एक सौ रुपए लिया जाए छात्रों से आवेदन शुल्क: रौशन कुमार

मधेपुराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जन अधिकार छात्र परिषद का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को बीएनएमयू के कुलपति डॉ. आरकेपी रमण को छह सूत्री मांग-पत्र सौंपा। जिसमें पीजी में आवेदन शुल्क कम करने, पीजी में सीट वृद्धि सहित अन्य मांग शामिल थी। छात्र परिषद के जिलाध्यक्ष रौशन कुमार बिट्‌टू ने कहा कि पिछले वर्ष लिखित आश्वासन मिला था कि किसी भी कोर्स में आवेदन शुल्क 300 के जगह अब 100 रुपए लिया जाएगा। लेकिन पीजी सत्र 2020-22 में आवेदन शुल्क 300 रुपए लिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि अविलंब इस पर रोक लगाई जाए। बिट्‌टू ने कहा कि इस बार पीजी में नामांकन के लिए सीट की वृद्धि नहीं हुई है। जिसके कारण काफी संख्या में छात्र नामांकन से वंचित रह जाएंगे। इसके अलावा एचएस कॉलेज उदाकिशुनगंज के प्रभारी प्राचार्य डॉ. रामनरेश सिंह पर महाविद्यालय के महिला कर्मियों द्वारा परेशान एवं प्रताड़ित करने का आरोप लगाए जाने के ढाई माह बीत जाने के बाद भी उन पर कार्रवाई नहीं होने पर सवाल उठाया।

वहीं प्रदेश उपाध्यक्ष मिथुन यादव ने कहा कि अगर हमलोगों की मांगों पर एक सप्ताह के अंदर कार्रवाई नहीं की गई तो छात्र जाप आंदोलन को बाध्य होगा। इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष अविनाश सिंह, निगम राज, सुशील व मो. सलाम सहित अन्य भी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...