पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तैयारी:4200 हेक्टेयर में लगेगी धान की नर्सरी, 15 से रोपाई: डीएओ

मधेपुरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में 2700 क्विंटल बीज की हुई आपूर्ति
  • 75000 हेक्टेयर में धान की रोपाई का जिले में इस बार रखा गया है लक्ष्य

प्री-मानसून की आहट होते ही जिले के किसानों ने धान की नर्सरी की तैयारी शुरु कर दी है। 15 जून से धान की रोपाई शुरू होगी। 75000 हेक्टेयर में धान की रोपाई के निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए लगभग 4200 हेक्टेयर में धान की नर्सरी लगाई जा रही है। उक्त आशय की जानकारी जिला कृषि पदाधिकारी राजन बालन ने दी। उन्होंने बताया कि किसान सबसे पहले नर्सरी वाले खेतों की जुताई करेंगे ताकि खर-पतवार को नष्ट किया जा सके। बिहार बीज निगम ने किसानों के लिए 2700 क्विंटल उत्तम गुणवत्ता वाले बीज की आपूर्ति कर दी है। जिसका वितरण पंजीकृत किसानांे के बीच विभिन्न याेजनाओं के तहत किया जाएगा। अंकुरण के बाद जब पौधा बड़ा हो जाएगा तो उसकी रोपाई का कार्य किया जाएगा। नर्सरी के लिए बीज तैयार करने वाले किसानों को लॉकडाउन से थोड़ी दिक्कत हो रही है। खाद-बीज की दुकानों को खोले जाने की आंशिक छूट दिए जाने के बावजूद किसानों की डिमांड पूरी नहीं हो पा रही है। सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों को समीपवर्ती बाजार में समय से पहुंचने में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। डीएओ ने कहा कि जिले में 75000 हेक्टेयर से अधिक भूमि में धान की रोपनी होनी है। इसके लिए जिले के किसान और कृषि विभाग पूरी तैयारी के साथ जुट गया है। अगर प्रकृति ने साथ दिया शत-प्रतिशत आच्छादन के साथ रिकाॅर्ड तोड़ उत्पादन होगा।

खबरें और भी हैं...