पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:धीमी गति से हो रहा है एनएच 107 के चौड़ीकरण का कार्य, परेशानी

मधेपुरा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मठाही में एनएच के किनारे गड्‌ढे में जमा गंदा पानी। - Dainik Bhaskar
मठाही में एनएच के किनारे गड्‌ढे में जमा गंदा पानी।
  • मठाही चौक पर नाले के अभाव में जमा है गंदा पानी, लोगों में आक्रोश

मधेपुरा-सहरसा एनएच-107 के चौड़ीकरण का कार्य धीमी गति से चलने से लोगों को दिक्कत हो रही है। इतना ही नहीं मधेपुरा-सहरसा मुख्य मार्ग पर मठाही चौक पर एक माह के अंदर एन एच चौड़ीकरण के लिए तीसरी बार अतिक्रमण हटाया गया। इससे मठाही चौक पर लगभग 90 प्रतिशत दुकानांे को तोड़ दिया गया। वहां दोनों तरफ मेटेरियल डालने के लिए रोड से लगभग तीन फीट गहरा गड्‌ढा किया गया। वहीं एनएच किनारे बसे लोगों के घर के सामने लगभग पांच फीट गड्‌ढा कर दिया गया। इसके साथ ही नाले को भी ध्वस्त कर दिया गया। नाले के टूटने के बाद घर का गंदा पानी घर के समाने बने गढ्‌ढे में ही जमा होता है। घर एवं दुकान के सामने जमा गंदा पानी से दुर्गंध आने के कारण राहगीर नाक पर रूमाल लेकर चलने को मजबूर हैं। वहीं घर के सामने बने गड्‌ढे को पार करने के लिए बांस की चचरी का सहारा ले रहे हैं। दुकानदार क्रांति साह तथा रमेश शाह का कहना है कि मठाही चौक पर संवेदक दुकान और घर के सामने बनाए गए गड्‌ढे को अधूरा छोड़कर लगभग महीने भर से फरार हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि ऐसी हालात रही तो यहां गंदे पानी में जानलेवा कीट-मच्छरों का पनपना शुरू हो जाएगा।

कवर तार नहीं होने से बढ़ी हादसे की आशंका
घर के सामने से 11 हजार वोल्ट के बिजली का नंगा तार गुजरने से भी लोग डरे-सहमे हैं। एनएच-107 के किनारे गड्‌ढा बन जाने से बिजली के खंभे की नींव कमजोर हो गई है। पिछले दिनों हवा के साथ बारिश के कारण 11 हजार वोल्ट के बिजली के खंभे गिर कर मकान के सहारे लगे थे। ग्रामीण रमेश साह का कहना है कि घनी आबादी के बीच जगह-जगह पर कवर तार लगाया जाए।

खबरें और भी हैं...