परेशानी:यूरिया और डीएपी की कमी से प्रभावित हो रही गेहूं की खेती

घैलाढ़12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रखंड क्षेत्र के भतरंधा, परमानंदपुर, श्रीनगर, बरदाहा, झिटकिया, घैलाढ़ आदि गांव में पर्याप्त मात्रा में यूरिया नहीं मिलने से किसान परेशान हो रहे हैं। इसका असर गेहूं की खेत में दिखना शुरू हो गया है। गेहूं के छोटे-छोटे पौधे पीले होने लगे हैं। इससे किसानों की परेशानी बढ़ने लगी है। किसान आसपास के खाद दुकानों पर यूरिया के भटकते रहते हैं। बावजूद पर्याप्त मात्रा में किसानों को यूरिया उपलब्ध नहीं हो पाता है। कई दुकानों में कभी यूरिया मिलता है तो किसानों को जबरन एक बैग यूरिया के साथ जाइम आदि बेच दिया जाता है। इसका विरोध करने पर किसानों को दुकानदारों के द्वारा भी धमकाया जाता है और अभद्र शब्दों का प्रयोग किया जाता है। किसान सुशील यादव, शंभू यादव, उमेश यादव, वकील यादव आदि ने बताया कि ऐसी परिस्थिति में किसान खेती कैसे करें। वहीं बीएओ काशीनाथ सिंह ने बताया कि उम्मीद है कि तीन से चार दिन में यूरिया का रैक आने वाला है। इसके बाद यूरिया की कमी दूर हो जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि किसानों से अगर कोई खाद साथ दुकानदार अभद्र व्यवहार करता है, तो इसकी शिकायत होने पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...