पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जमीन विवाद:पत्नी: ससुर, देवर ने पति की हत्या की देवर: इलाज के अभाव में भाई की मौत

ग्वालपाड़ा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पति की हत्या के बाद राेती-बिलखती पत्नी व सांत्वना देते परिवार के अन्य सदस्य। - Dainik Bhaskar
पति की हत्या के बाद राेती-बिलखती पत्नी व सांत्वना देते परिवार के अन्य सदस्य।
  • ग्वालपाड़ा थाना क्षेत्र के ईजमाइल घाट की घटना, 13 पर केस दर्ज
  • पत्नी का आरोप, गला दबाकर मारा व भाई ने कहा-पेट दर्द से था पीड़ित

ईजमाइल घाट में एक युवक की पिता समेत परिजनों के द्वारा पीट-पीट व गला दबाकर हत्या किए जाने का आरोप लगाया गया है। मृतक 24 वर्षीय पंकज कुमार पटेल की पत्नी सोनाक्षी कुमारी ने ग्वालपाड़ा थाने में आवेदन देकर ससुर, देवर समेत 13 लोगों पर हत्या की एफआईआर दर्ज कराई है। मृतक की पत्नी का कहना है कि उसका मायका पुरैनी थाना क्षेत्र के ओराय गांव में है। जमीन-जायदाद को लेकर झगड़ा-झंझट होते रहता था। पूर्व में भी पति की हत्या करवाने की कोशिश की गई थी। सोनाक्षी का कहना है कि शुक्रवार को वह अपने मायके औराई गांव में थी। शनिवार को खबर मिली कि उनके पति की हत्या शुक्रवार की रात को ही कर दी गई है। अपने माता-पिता के साथ ससुराल ईजमाइल घाट पहुंची, तो देखा की पति के शव को श्मशान ले जाया जा रहा था। मना करने पर ससुराल वालों ने मारपीट की। सोनाक्षी ने आरोप लगाया कि ससुर सुरेश पंडित, सास मीणा देवी, देवर जयप्रकाश पटेल सहित तेरह लोगों ने उसके पति की हत्या कर घटना को दबाने का प्रयास किया।

केस दर्ज कर की जा रही है जांच
पुलिस के पहुंचने से पहले शव का दाह-संस्कार कर दिया गया था। मामले में पीड़िता के आवेदन के आधार पर 13 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर छानबीन की जा रही है।
-मणिकांत झा, प्रभारी थानाध्यक्ष, ग्वालपाड़ा

भाभी के समक्ष ही हुआ भाई का दाह-संस्कार : जयप्रकाश

मृतक के छोटे भाई जयप्रकाश ने बताया कि उसके भाई पंकज की मौत पेट दर्द के कारण हुई है। हत्या का आरोप गलत है। बताया कि भाभी चाहती थीं कि भाई यहां की जमीन बेचकर अपने ससुराल में ही बस जाएं। शुक्रवार की शाम को भाई अपने दो साले के साथ बाइक से आए था। उसके बाद उनका साला वापस लौट गया। रात को जब उनसे खाना खाने को कहा गया, तो कहा कि तबीयत ठीक नहीं है, खाना भी नहीं खाया। रात दो बजे पेट में अचानक तेज दर्द हुआ। आधा घंटे के बाद उनकी मौत हो गई। शवदाह के समय की सारी प्रक्रिया उनकी भाभी ने की, जिसकी वीडियोग्राफी भी साक्ष्य के रूप में मौजूद है। भाई के ससुराल वाले शनिवार को ही पंचायत बैठाए कि उसके हिस्से की जमीन भाभी के नाम करने को कहे। हम लोग कहे कि बेटे का हिस्सा जमीन में होगा तो वे लोग नाराज हो गए और केस करा दिए।

खबरें और भी हैं...