पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

माैसम बदलने से बढ़ी बीमारी:जयनगर में वायरल फीवर से पीड़ित 12 बच्चे भर्ती, 24 को किया गया डिस्चार्ज

मधुबनी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जयगनर, झंझारपुर और सदर क्षेत्र के बच्चे सर्वाधिक बीमार हो रहे हैं

जिले में आए दिन सर्दी और वायरल फीवर से पीड़ित बच्चों की संख्या बढ़ती जा रही है। जयनगर, झंझारपुर और सदर क्षेत्र में राेजाना औसतन 600 बच्चाें का इलाज अस्पताल में हाे रहा है। जयनगर में सर्दी और वायरल फीवर से बच्चे ज्यादा प्रभावित हैं। रविवार को यहां 12 बच्चों को हॉस्पिटल मे भर्ती करना पड़ा। वहीं, 24 को डिस्चार्ज किया गया। यहां औसतन राेजाना 200 बच्चाें का अस्पताल में इलाज चल रहा है। हालांकि राहत की बात यह है कि अभी भी जिले में भर्ती बच्चों की संख्या अधिक नहीं है।

डाॅक्टर इलाज करने के बाद आवश्यक दवाएं देकर बच्चाें काे घर भेज देते हैं। वहीं, जयनगर में 200 बच्चे औसतन इलाज करवाने पहुंच रहे हैं जिनमें राेजाना 30 से ज्यादा बच्चाें काे भर्ती करना पड़ रहा है। वहीं, मुख्यालय में 300 से 350 बच्चे सरकारी व निजी अस्पतालों में इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। हालांकि अच्छी बात ये है कि सदर अस्पताल के शिशु वार्ड में पिछले पांच दिनों से वायरल बुखार से पीड़ित एक भी बच्चे काे भर्ती नहीं करना पड़ा। झंझारपुर में भी औसतन 175 से 200 बच्चे इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। इनमें से अधिकांश बच्चाें काे डाॅक्टर्स दवा देकर घर भेज देते हैं। वहीं, इस मामले में शिशु रोग विशेषज्ञ डाॅक्टर महेंद्र सिंह ने बताया है कि वायरल फीवर से बचाव के लिए जरूरी है कि बच्चों के खानपान व साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। बच्चों को पोषक तत्व वाले आहार दें।

खबरें और भी हैं...