पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना अपडेट:200 स्पेशल किट आवंटित, फ्रंटलाइन पर काम करने वालों की होगी जांच

मधुबनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना वायरस का पता चलेगा : फ्रंटलाइन वर्कर को मिलेगा रैपिड एंटीबाॅडी टेस्ट की सुविधा

कोविड संक्रमण काल में लगातार अपनी सेवा दे रहे फ्रंटलाइन वर्कर के लिए स्वास्थ्य विभाग ने नई विधि से जांच करने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में अब आईसीएमआर की गाइडलाइन के आधार पर इनकी एलिजा आईजीजी विधि से रैपिड एंटीबॉडी जांच करने का निर्णय लिया गया है। इसमें हेल्थ केयर वर्कर, सरकारी कार्यालयों के कर्मी, बैंक कर्मी और अन्य जरूरी सेवाओं में कार्यरत कर्मी शामिल हैं। इसको लेकर निदेशक प्रमुख रोग नियंत्रण लोक स्वास्थ्य पारा मेडिकल डा. नवीन चंद्र प्रसाद ने सिविल सर्जन डा. सुनील कुमार झा को निर्देश जारी कर दिया है।
जिले को 200 एलिसा आईजीजी किट आवंटित | राज्य के सभी जिलों में एलिसा आईजीजी किट आवंटित किए गए हैं, जिसमें मधुबनी जिले को 200 किट उपलब्ध कराए गए हैं। सैंपल कलेक्शन, स्टोरेज एवं ट्रांसपोर्टेशन आईसीएमआर की गाइडलाइन के अनुसार किया जाएगा। टेस्ट किट के लिए 2- 8 डिग्री सेल्सियस तापमान की आवश्यकता होगी। एलिसा टेस्ट के लिए संबंधित व्यक्ति का 5 एमएल ब्लड सैंपल के लिए लिया जाएगा। एलिजा जांच के लिए मधुबनी स्वास्थ्य विभाग को (आरएमआरआई) राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट पटना से टैग किया गया है। एलिसा टेस्ट के लिए लक्षित व्यक्तियों/ संस्थाओं को चिन्हित करने का कार्य जिलाधिकारी के आदेशानुसार किया जाएगा।
क्यों जरूरी है रैपिड एंटी बॉडी टेस्ट |

शोध करने वाले वैज्ञानिकों का मानना है कि एक नए वायरस से लड़ने के लिए सबसे ज़रूरी संक्रमण का स्तर पता लगाना होता है। जब तक वायरस का इलाज नहीं मिल जाता, तब तक आंकड़े ही दवाई की तरह काम करते हैं। इसी के आधार पर वैज्ञानिक और सरकार फैसले लेते हैं कि उन्हें किस तरह के कदम उठाने हैं, क्या छूट देनी है, कहां-कितनी रियायत देनी है। कोरोना के संक्रमण के मामले में भी ठीक ऐसा ही है। यहाँ भी किसी भी तरह का फ़ैसला लेने के लिए आंकड़ों की बहुत ज़रूरत है। सिविल सर्जन सुनील कुमार झा ने बताया कि एलिसा किट से यह स्पष्ट होगा कि किसके शरीर में संक्रमण पूर्व से हो चुका है और किस में संक्रमण होने की संभावना है। यह एक नई विधि है। जैसे ही किट उपलब्ध होगी, निर्देशानुसार जांच शुरू कर दी जाएगी।

झंझारपुर एसडीओ ने कोविड -19 जांच केंद्र का किया निरीक्षण

झंझारपुर आइसोलेशन वार्ड को 40 बेड से बढ़ा कर अब 56 बेड का किया जाएगा

झंंझारपुर | कोरोना महामारी को लेकर स्थानीय अधिकारी लगातार कोरोना कोविड-19 सेंटर का लगातार जांच कर रहे है। इसी दौरान एसडीओ चौधरी ने झंझारपुर अनुमंडल अस्पताल का निरीक्षण किया जहां अधिक से अधिक लोगों को जांच करने का निर्देश दिए गए। इस बाबत एसडीओ चौधरी ने बताया कोविड 19 के जांच के अपनी सहमति पत्र पर होम क्वारंटाइन में रहेंगे या फिर अनुमंडल आइसोलेशन रखने की व्यवस्था की गई है। वहीं अधिक से अधिक लोगों को जांच करने का निर्देश दिया गया है।

पूर्व में झंंझारपुर आइसोलेशन वार्ड में 40 बेड लगा हुआ था। जहां अब 16 बेड बढा कर 56 बेड कर दिया गया है। वहीं अनुमंडल अस्पताल के ओपीडी में आए सभी लोगों को कोरोना जांच किया गया है। समाचार संकलन तक सौ से अधिक लोगों का जांच हो चुका था। जांच के दौरान एसडीओ चौधरी के साथ डॉ. मुकेश कुमार, डॉ उमेश कुमार यादव, कर्मियों में श्याम चौधरी, नागमणि समेत कई अन्य अधिकारी थे।

विशिष्ट आवश्यकता के आधार पर संभावित समूहों के लिए भी होगा टेस्ट
पत्र में बताया गया है कि एलिसा टेस्ट का उपयोग डॉक्टर, नर्स एवं सहायक कर्मचारी, स्वास्थ्य कर्मी, फार्मासिस्ट, क्लर्क, थर्मल स्क्रीनिंग करने वाले, प्रेस रिपोर्टर, दैनिक कार्य करने वाले मजदूर, प्रवासी मजदूर, निगम कर्मचारी, एंबुलेंस ड्राइवर, बैंक कर्मी, डाक कर्मी, कूरियर स्टाफ, कैदी, टीवी मरीज, डायलिसिस मरीज की भी प्राथमिकता के आधार पर टेस्टिंग करनी है। बफर एवं कंटेंटमेंट जोन में भी जांच करने हैं।

कैसे किया जाता है एलिसा आईजीजी टेस्ट
इसमें मरीज की उंगली में सूई चुभोकर खून का सैंपल लिया जाता है, जिसका परिणाम भी 15 से 20 मिनट में आ जाता है। एंटीबॉडी टेस्ट को ही सेरोलॉजिकल टेस्ट कहा जाता है। यह जेनेटिक टेस्ट के मुकाबले काफी सस्ता होता है। रिवर्स-ट्रांसक्रिप्टेस रीयल-टाइम पोलीमरेज चेन रिएक्शन (आरटी-पीसीआर) यानी जेनेटिक टेस्ट में नौ घंटे में रिजल्ट मिलता है। पीसीआर टेस्ट शुरुआती दौर में संक्रमण का पता तभी लगा सकता है, जब वायरस के संक्रमण से लड़ने के लिए शरीर में एंटीबॉडी डेवलप हो चुका हो। इसलिए एंटी बॉडी टेस्ट में जो पॉजिटिव आते हैं, उनमें संक्रमण का सही से पता लगाने के लिए जेनेटिक टेस्ट यानी पीसीआर टेस्ट के लिए भेजा जाता है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें