मास्क व दाे गज दूरी जरूरी:24 घंटे में काेराेना के 337 नए मरीज मिले एक की मौत; 94 संक्रमित स्वस्थ भी हुए

मधुबनी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक्टिव संक्रमितों की संख्या 2279, जिले में 128 कंटेनमेंट जोन बनाए गए

जिले में एक्टिव कोरोना संक्रमितों की संख्या दो हजार के पार पहुंच गई है। हालांकि गुरुवार को 94 संक्रमितों के स्वस्थ्य होने के बाद देर शाम फिर बढ़कर 2279 हो गई। इसके साथ ही पिछले 24 घंटे में 337 संक्रमितों पाए गए हैं वहीं 94 रिकवर हुए हैं। पूर्व पार्षद की मौत हो गई। 101 कोरोना पाजिटिव जिले के विभिन्न कोविड केयर सेंटर में भर्ती हैं जबकि जिले में कोविड मरीजों के लिए बेड की कुल क्षमता 1115 है जिसमें से 1063 पूरी तरह से तैयार है। होम आइसोलेशन में 1702 संक्रमित हैं।

वहीं 128 एक्टिव कंटेनमेंट जोन जिले में बनाए गए हैं। जिले में 2 लाख 75 हजार से अधिक लोगों का हुआ टीकाकरण किया जा चुका है। समें 16,089 हेल्थ केयर वर्कर को प्रथम डोज,12,112 हेल्थ केयर वर्कर को सेकंड डोज, 9,552 फ्रंटलाइन वर्कर को प्रथम डोज, 4,592 फ्रंटलाइन वर्कर को सेकंड डोज, 1,34,295 लोग जो 60 वर्ष से ऊपर के हैं को प्रथम डोज,24,306 को सेकंड डोज तथा 45 से 59 वर्ष के 60,618 लोगों को प्रथम डोज,7,160 से अधिक लोगों को सेकंड डोज दिया जा चुका है।

जिले में मृतकों की संख्या बढ़कर 16 हो गई, लोगों को सतर्क रहने की है जरूरत
जिले में मृतकों की संख्या बढ़कर 16 हो गई है। जिले से बाहर मरने वालों में सर्वाधिक दरभंगा में 36, भागलपुर-2, गया व मधेपुरा में 1-1 , मुजफ्फरपुर में 5, समस्तीपुर में 6, सुपौल में 4, सीतामढी में 8, पश्चिम चंपारण में 1, सारण में 1, मुंगेर में 1, बागपत में 1 व दिल्ली में 1 की मौत हुई है वहीं पटना में 7 मौत हुई है। इस तरह जिले से बाहर 75 संक्रमितों की मौत हुई है। एक रिपोर्ट के अनुसार जिले में जिन 16 लोगों की मौत हुई है उसमें 70 से अधिक आयु वर्ग के 5 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। वहीं 61 स 70 वर्ष के 3, 51 से 60 वर्ष के 3, 41 से 50 वर्ष के 2, 31 से 40 वर्ष के 2 व 21 से 30 वर्ष के 1 कोरोना संक्रमित शामिल हैं।

21 से 30 वर्ष के कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 600 के पार पहुंचा
जारी रिपोर्ट में जिले में 0 से 10 वर्ष के 58, 11 से 20 वर्ष के 237 मरीज, 21 से 30 वर्ष के 605 मरीज, 31 से 40 वर्ष के 403 मरीज, 41 से 50 वर्ष के 295 मरीज, 51 से 60 वर्ष के 183 मरीज, 61 से 70 वर्ष के 134 मरीज सहित अन्य आयु वर्ग के संक्रमित पाए गए हैं। इस तरह जिले में 21 से 30 वर्ष के सर्वाधिक कोरोना पाजिटिव का सिलसिला शुरूआत से जारी है। मालूम हो कि इस वर्ष युवा काफी संख्या में संक्रमित हो रहे हैं। इसी को ध्यान में रखकर 1 मई से 18 वर्ष से अधिक को टीका दिया जाएगा।

एक्सपर्ट व्यू

^होम आइसोलेशन या कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीजों को सकारात्मक सोच रखनी चाहिए। वहीं कोई लक्षण दिखने पर तुरंत नजदीकी जांच केंद्र पर कोविड की जांच करवाएं।
-डाॅ. बिनोद कुमार

^कोविड का टीका अवश्य लें। टीका पड़ जाने के बाद प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाएगी। इससे शरीर में एंटीबॉडी विकसित होती है। पहले जांच करवाएं व रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही टीका लें।
डाॅ. मुरारी

खबरें और भी हैं...