पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नई व्यवस्था:आरटी पीसीआर से हर दिन 400 और ट्रूनेट मशीन से 225 जांच होगी

मधुबनी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में आरटीपीसीआर व ट्रूनेट से जांच के लक्ष्य निर्धारित किए, जांच के लिए होगी पूल टेस्टिंग

वैश्विक महामारी कोरोना संकटकाल के बीच मरीजों की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग नई- नई प्रयोग कर रही है।कोरोना संक्रमण जांच में तेजी आए तथा कोरोना संक्रमण पर काबू पाया जा सके। इसी को लेकर स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने जिला पदाधिकारी एवं सिविल सर्जन को पत्र लिखकर जिले में आरटी पीसीआर से प्रतिदिन 400 जांच तथा ट्रूनेट मशीन से 225 जांच करने का निर्देश दिया है। साथ ही जिले में पूल टेस्टिंग करने का भी निर्देश दिया है।

मालूम हो कि पूर्व में भी पुल टेस्टिंग हुई थी जिसके बाद फिर से पुल टेस्टिंग करने का निर्देश दिया गया है। पूल टेस्टिंग यानि एक से ज़्यादा सैंपल को एक साथ लेकर टेस्ट करना और कोरोना वायरस के संक्रमण का पता लगाना पूल टेस्टिंग कहलाता है पूल टेस्टिंग का इस्तेमाल कम संक्रमण वाले इलाकों में होता है। जहां संक्रमण के ज़्यादा मामले हैं वहां पर अलग-अलग जांच की जाती है पूल टेस्टिंग अधिकतम पांच लोगों की एक साथ जांच की जा सकती है। पूल टेस्टिंग के लिए पहले लोगों के गले या नाक से स्वैब का सैंपल लिया जाता है।फिर उसकी टेस्टिंग के ज़रिए कोविड19 की मौजूदगी का पता लगाया जाता है। पुल टेस्टिंग के जरिए बाजार, हाट आदि जगहों पर मेडिकल टीम कैंप लगाकर सैंपल लेती है।

जिले में 4 को कोविड सेंटर उपलब्ध : सिविल सर्जन डॉक्टर सुनील कुमार झा ने बताया जिला के कोविड-19 प्रभावित मरीजों के देखभाल हेतु जिले मे 4 कोविड केयर सेन्टर क्रमश: रामपट्टी, झंझारपुर, बेनीपट्टी एवं जयनगर में कार्यरत है। कोविड केयर सेन्टर तथा होम आइसोलेंशन मरीजों से उनकी स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त करने हेतु जिला कोविड कंट्रोल रूम सह टेलीफोन परामर्श केन्द्र स्थापित किया गया है। जहाँ पर जिला प्रशासन के वरीय पदाधिकारी एवं जिला अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। प्रत्येक पीएचसी सेन्टर को भी प्रतिदिन 150 रैपिंड एंटीजन टेस्ट करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं 10 आरटीपीसीआर व 10 ट्रनेट से जांच करना है।

कंटेंनमेंट जोन क्षेत्र में भी टेस्ट करने के दिए गए निर्देश
मालूम हो कि जिला प्रशासन द्वारा भी किसी क्षेत्र मे कोविड प्रभावित मरीज पाए जाने पर उस कंटेनमेंट जोन क्षेत्र के अंतर्गत आनेवाले सभी लोगो का रैपिड एंटीजन टेस्ट कराने का प्रखण्ड विकास पदाधिकारी एवं पीएचसी प्रभारी को दिया गया। इसी प्रकार प्रत्येक प्रखण्ड के पंचायत वार रोस्टर बनाकर प्रतिदिन एक-एक पंचायत के 100 लोगो का रैपिड एंटीजन टेस्ट कराने का आदेश पीएचसी एवं प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को भी दिया गया है। इस दौरान संबंधित पंचायत के मुखिया तथा जन प्रतिनिधि का भी सहयोग लिया जाएगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें