पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बीमारी से बचने का टिप्स दिया:जिले में चलाया जा रहा जेई टीकाकरण अभियान, 17.47 लाख के विरुद्ध 5 लाख 3 हजार 499 बच्चों को किया गया है प्रतिरक्षित

मधुबनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जापानी इंसेफ्लाइटिस टीकाकरण अभियान की शुरुआत 17 जून से बच्चे को टीका लगाकर की गई थी

जिले में जापानी इंसेफ्लाइटिस टीकाकरण अभियान सुचारू रूप से चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत 1 वर्ष से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है। जापानी इंसेफ्लाइटिस टीकाकरण अभियान की शुरुआत 17 जून से बच्चे को टीका लगाकर की गई थी। जिले में अबतक कुल 5.03 लाख से अधिक बच्चों का टीकाकरण किया जा चुका है। अन्य बच्चों के लिए टीकाकरण कार्यक्रम जारी है। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ.एस.के. विश्वकर्मा ने बताया 17 जून से कार्यक्रम की शुरुआत हुई थी. जिले में अब तक कुल 5.03 लाख बच्चों का टीकाकरण किया जा चुका है, जिसमें 2.56 लाख किशोर तथा 2.46 लाख किशोरी के टीकाकरण हुआ है. इनमें 1 से 5 वर्ष तक के 2.87 लाख बच्चे, 5 वर्ष से 10 वर्ष के 1.37 लाख बच्चे तथा 10 वर्ष से 15 वर्ष के कुल 78336 बच्चे शामिल हैं। इन सभी बच्चों के टीकाकरण हेतू कुल 5.04 लाख वैक्सीन का इस्तेमाल किया गया है।

टीकाकरण के लिए आंगनवाड़ी केंद्र के साथ-साथ अन्य टीकाकरण स्थलों का उपयोग किया जा रहा है। जापानी इंसेफ्लाइटिस टीकाकरण अभियान के दौरान कोविड-19 से बचाव का भी ख्याल रखा जा रहा है। टीकाकरण के समय बच्चों को सोशल डिस्टेनसिंग नियम का पालन करते हुए दूरी बनाकर पंक्तियों में रखा जाता है। टीकाकरण के अधिकारियों व आशा कर्मियों द्वारा मास्क, ग्लव्स का प्रयोग करने आदि का विशेष तौर से ख्याल रखा जा रहा है।टीकाकरण में शामिल सभी अधिकारी व कर्मी प्रशिक्षित हैं एवं उन्हें टीकाकरण संबंधित सभी जानकारी जैसे टीका के रख-रखाव एवं दिए जाने वाले डोज आदि की जानकारी दी गयी है। यूनिसेफ एसएमसी प्रमोद कुमार झा ने बताया इंसेफ्लाइटिस को जापानी बुखार के नाम से भी जाना जाता है, यह एक प्रकार का दिमागी बुखार है जो वायरल संक्रमण के कारण होता है यह संक्रमण ज्यादा गंदगी वाली जगह पर पनपता है साथ हा क्यूलेक्स मच्छर के काटने से होता है। हर साल बिहार समेत कई राज्यों में इस बिमारी के कारण नवजात शिशुओं के साथ बच्चों की मृत्यु हो जाती है ।

जिले में कंटेनमेंट जोन समाप्त होने के बाद चलाया जाएगा कैंपेनिंग अभियान
ज़िला प्रतीक्षण पदाधिकारी डॉ. एसके विश्वकर्मा ने बताया जहां जेई कैंपेनिंग नहीं हुआ है वहां नियमित टीकाकरण के दिन सत्र स्थल पर टीके लगेंगे कंटेनमेंट जोन में जहां कैंपेनिंग नहीं चलाया गया था वहां कंटेनमेंट खत्म होने के बाद कैंपेनिंग किया जाएगा। डाॅ. विश्वकर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि यूनिसेफ एसएमनेट के द्वारा इसमें व्यापक सहयोग दिया जा रहा है ।

जापानी इंसेफ्लाइटिस के लक्षण
जापानी इंसेफ्लाइटिस में बुखार होने पर बच्चे की सोचने, समझने, और सुनने की क्षमता प्रभावित हो जाती है. तेज बुखार के साथ बार- बार उल्टी होती है. यह बिमारी अगस्त , सितंबर और अक्टूबर माह में ज्यादा फैलता है और 1 से 15 साल की उम्र के बच्चों को अपनी चपेट में लेता है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सक्षम और सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। कुछ समय से चल रही चिंताओं से राहत मिलेगी। परिवार के लोगों की हर छोटी-मोटी जरूरतें पूरी करने में आपको आनंद आएगा। अचानक ही किसी ...

और पढ़ें