पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई:नल जल योजना में अनियमितता करने वालों पर होगी कार्रवाई

मधुबनी11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीडीओ ने कहा- एक सप्ताह के अंदर हर घर तक शुद्ध पानी पहुंचाना सुनिश्चित करें जिम्मेदार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट सात निश्चय योजना अंधराठाढ़ी प्रखंड क्षेत्र में लूट योजना बनकर रह गई है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बिहार के मुखिया नीतीश कुमार ने नल जल योजना को कागजों पर पूर्ण कराकर इसका उद्घाटन बड़े धूमधाम से किया। लेकिन धरातल पर अंधराठाढ़ी प्रखंड में नल जल योजना में बरती गई अनियमितता इसकी पोल खोल रही है। प्रखंड के देवहार, मरुकिया व गौड़ अंधरा पंचायतों में रियलिटी चेक किया गया तो ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए जानकारी दी।

आक्रोशित ग्रामीणों ने नीतीश कुमार के इस योजना को लूट-खसोट व कमीशनखोरी की योजना बताया। ग्रामीणों ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा किया गया उद्घाटन चुनावी जुमला है। मरुकिया और देवहार पंचायत में यह नल जल योजना नहीं बल्कि जनप्रतिनिधियों की लॉटरी योजना है। बिना टंकी के ही बोर्ड लगाकर उद्घाटन का फोटो लेकर चैन की सांस ली जा रही है और प्रशासनिक महकमा कभी कोरोना महामारी तो अब चुनाव का हवाला देकर अपना पड़ला झाड़ने में लगा है।

देवहार पंचायत के कई गांव में कई घर के आगे लटकाई टोटी टूट गई हैं तो कहीं पानी टंकी में जंग लग गया हैं। अब नीतीश कुमार की यह नल जल योजना लूट की योजना बन चुकी है। ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए कहा यह सब कमीशनखोरी का खेल है। पंचायत में विकास होना अब संभव नहीं है। ऊपर से नीचे तक केवल रिश्वतखोरी और बंदरबांट का खेल चल रहा है। वहीं, मामले में बीडीओ राजेश्वर राम ने कहा कि कई पंचायतों से उन्हें भी सूचना प्राप्त हुई है। सभी संबंधित जनप्रतिनिधियों को एक सप्ताह तक सुचारू रूप से पानी चालू करने के लिए कहा गया है। नियमित शुद्ध पेयजल की पूर्ति नहीं होने पर उनके विरुद्ध कठोर कार्रवाई होगी। किसी भी तरह की अनियमितता पाए जाने पर इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें