प्रधानमंत्री की केदारधाम यात्रा:आदि शंकराचार्य के प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम काे लाेगाें ने उत्साह से देखा

रहिकाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केदारनाथ से लाइव प्रसारण को देखते स्थानीय विधायक व अन्य। - Dainik Bhaskar
केदारनाथ से लाइव प्रसारण को देखते स्थानीय विधायक व अन्य।

प्रखंड मुख्यालय से महज तीन किलोमीटर की दूरी पर अवस्थित स्थित बाबा कपिलेश्वर नाथ महादेव के प्रांगण में उत्तराखंड के केदारनाथ में प्रधानमंत्री की ओर से आदि शंकराचार्य की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम का सीधा प्रसारण कपिलेश्वर स्थान मंदिर परिसर में हुआ। प्रसारण में कहा गया कि बिहार के मिथिला में अवस्थित बाबा कपिलेश्वर नाथ स्थान में आदिशंकराचार्य रुके थे।

केदारनाथ धाम से लाइव टेलिकास्ट में मुख्य अतिथि सह कला संस्कृति एवं युवा मंत्री आलोक रंजन झा, विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल, सीतामढ़ी के विधायक मिथलेश कुमार, एमएलसी घनश्याम ठाकुर, पूर्व एमएलसी सुमन महासेठ सहित राजग गठबंधन के नेताओं व श्रद्धालुओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के आह्वान पर लोगों ने ताली बजाकर जयकारा लगाया और कार्यक्रम का आनंद लिया।

वर्ष 2013 में केदारनाथ में आई प्राकृतिक आपदा में आदि शंकराचार्य की प्रतिमा क्षतिग्रस्त हो गई थी। वहीं, उपस्थित लोगाें ने ध्वस्त तीर्थस्थल के पुनर्निर्माण व विकास योजनाओं के उद्घाटन समारोह की जमकर तारीफ की। कार्यक्रम के समापन के बाद कला संस्कृति एवं युवा मंत्री ने शिवालयों में आयोजित सीधा प्रसारण के बारे में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 8वीं शताब्दी में आदि शंकराचार्य ने देश को आध्यात्मिक रूप से एकीकृत करने का अभियान चलाया था।

इसके लिए देशभर में शंकराचार्य ने यात्रा कर लोगों को आध्यात्मिक चेतना का ज्ञान दिया। इतिहास में उल्लेखित है कि आदि शंकराचार्य ने बिहार में 17 जगहों पर आध्यात्मिक ज्ञान का संदेश दिया जिसमें प्रमुख रूप से कपिलेश्वर नाथ मंदिर में भी उन्हाेंने समाधि लगाई थी। कार्यक्रम में प्रखंड भाजपा अध्यक्ष प्रभांशु कुमार झा सोनू, पिन्टू कुमार यादव, राज कुमार मिश्र, सुनील मिश्र, राज किशोर बुलेट, पवन झा सहित अन्य लोग उपस्थित थे ।

खबरें और भी हैं...