विचार-विमर्श:क्षत्रिय समाज को संगठित करने को लेकर किया विचार-विमर्श

मधुबनी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कहा : क्षत्रियाें का इतिहास वीरता से भरा पड़ा है

क्षत्रियों की एक बैठक बस्ती पंचायत स्थित राजपुताना टोला स्थित में हुआ। समाज सेवी चंद्रमोहन सिंह के आवास पर आयोजित बैठक की अध्यक्षता डॉ अंबिका प्रसाद सिंह तोमर ने किया। बैठक को संबोधित करते हुए यूपी के प्रतापगढ़ के साहब सिंह सोमवंशी ने कहा की क्षत्रियों का इतिहास वीरता एवं साहस से भरा पड़ा है। लेकिन कुछ दशकों से राजनीतिज्ञों के द्वारा क्षत्रिय के गौरवपूर्ण इतिहास को धूलित करने का प्रयास किया गया है। उन्होंने राजपूत सच्चे भी होते है। उन्होंने कहा की महापुरुष वह विभूतियां हैं जिनके उत्तम उद्देश्य उसकी कृतियों को मूर्तिमान करते हैं।

राय साहब सिंह सोमवंशी ने कहा कि समाज की सेवा करने वाले लोग चार प्रकार के होते हैं पहला धार्मिक दूसरा आर्थिक तीसरा राजनैतिक चौथा सामाजिक। वक्ताओ ने कहा कि धार्मिक पुरुष यदि वह समाजसेवी और राजनैतिक भी है तो युगो तक पूजा जाता है। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र जी और भगवान श्री कृष्ण धार्मिक सामाजिक और राजनैतिक सेवा करके युगो तक अमर और पूज्य बन गए।कार्यक्रम का संचालन समाज सेवी चंद्रमोहन सिंह ने किया। इस दाैरान डॉक्टर अम्बिका प्रसाद सिंह तोमर, अखिलेश्वर सिंह ह्ययोवंश, चंद्र मोहन सिंह परमार, पवन कुमार सिंह परमार, डॉ विजय कुमार सिंह गांई, बैद्यनाथ सिंह राठौर, राम विनोद सिंह बैंस, नरेंद्र नारायण कुंवर उर्फ़ (उध्दव कुंवर), सत्येंद्र सिंह बैंस, जगन्नाथ सिंह राठौर, दिनेश कुमार सिंह गौतम समेत अन्य मौके पर मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...