दुर्गा पूजा:इंडिया गेट की तरह नजर आएगा दुर्गा पूजा पंडाल

मधुबनी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बन रहा पूजा पंडाल। - Dainik Bhaskar
बन रहा पूजा पंडाल।

दुर्गा पूजा को लेकर शहर में उत्सवी माहौल के बीच भक्तिमय माहौल बनने लगा है। मंत्रों के उच्चारण और भगवती गीतों से शहर गुंजने गला है। इस बीच कोरोना काल से परेशान हुए शहर के लोगों की आर्थिक स्थिति में बेहतर सुधार नहीं होने और चंदा-चिठ्‌ठा के माध्यम से कमेटियों के पास धन संग्रह नहीं होने से पूजा पंडाल पर भी इसका असर इस बार देखने को मिलेगा। हालांकि शहर के दरभंगा जंक्शन के निकट स्थित पंचवटी नव जागरण दुर्गा पूजा समिति की ओर से इस बार इंडिया गेट का निर्माण हो रहा है।

पूजा कमेटी के अध्यक्ष मुन्ना कुमार और पूर्व अध्यक्ष सोनी सिंह ने बताया कि दो साल से कोरोना मार के बीच पुन: पूजा को लेकर तैयारी तेज हुई है। दो साल पूर्व यहां रामेश्वरम मंदिर का लुक दिया गया था, इस बार इंडिया गेट का लुक दिया जा रहा है। पूर्व में साढे छह लाख रुपए संग्रह होता था मगर इस बार का लक्ष्य साढे तीन लाख ही है। नाका छह पर दिखेगा कृष्णा जन्म दृश्य : नाका नं. छह मां चंडी दुर्गा पूजा कमेटी की ओर से इस बार कृष्ण जन्म के साथ पूरी स्टोरी गोकुल और मथुरा के साथ ही देवकी की दर्द पर आधारित दृश्य को देने के लिए कलाकार लगे हैं। रंजीत कुमार और मुकेश कुमार की टोली इस दृश्य को उतारने के प्रयास में लगे हैं। यह स्थानीय विश्वविद्यालय से प्रशिक्षित छात्र रहे हैं।

पूजा कमेटी के उप सचिव राज कुमार महतो ने बताया कि यहां 1986 से पूजा होता आ रहा है। पूर्व में यहां छह लाख का लक्ष्य रहता था, इस बार साढे तीन लाख में पंडाल के बदले मूर्तियों को ही विशेष रूप से स्वरूप दिया जा रहा है। श्री श्री 108 सार्वजनिक दुर्गा मंदिर विकास समिति कटहलबाड़ी के संरक्षण में दुर्गा पूजा समिति के सदस्य पूजा के समय सब काम देखते हैं। समिति के अध्यक्ष पवन कुमार पासवान, सचिव मुकेश महासेठ एवं कोषाध्यक्ष शिव शंकर झा हैं। विकास समिति के संरक्षक डॉ. लेख नाथ झा कहते हैं कि बिहार स्व. कृष्णदास मजूमदार संपूर्ण जीवन भगवती अराधना में समर्पित कर दिया था। प्रारंभ में राज दरभंगा धार्मिक न्यास समिति के माध्यम से पूजा का संचालन होता था।

खबरें और भी हैं...