पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विचार-विमर्श:सौराठ सभा को राजनीति से अलग रख इसके उत्थान के लिए बात करें

मधुबनी24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2022 में सभा की भव्यता को लेकर किया गया

विश्वप्रसिद्ध सौराठ सभागाछी परिसर में सभा समापन समारोह के अवसर पर बुधवार को राष्ट्रीय ब्राह्मण महासभा परशुराम सेवा संस्थान के तत्वावधान में सभा आयोजित किया गया। सभा आयोजन का मुख्य उद्देश्य था, 2022 की सभा को ऐतिहासिक बनाने के लिए ब्राह्मण को संकल्प दिलवाना। वहीं कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए ब्राह्मण महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ई आशुतोष ने कहा की सौराठ सभा को राजनीति से अलग रखकर सभी अलग-अलग संगठन एक मंच पर आकर सभा उत्थान की बात करें। उन्होंने यह भी बताया कि 2020 में ही ऐसा आयोजन करने का संकल्प मधुबनी जिला ब्राह्मण महासभा सम्मेलन में 25 दिसंबर 2012 को टाउन हॉल में लिया गया था।

अपने इस संकल्प के अनुरूप हम व हमारे साथी सदैव तत्पर है। हमलोग 2019 के रक्षा बंधन से ही सौराठ सभा में ब्राह्मण की उपस्थित आकर्षण का केन्द्र बने के दिशा में कार्य करने में लगे थे। यह भी कहा कि आवासीय सम्मेलन में प्रातःकाल योगा शिविर, मां गायत्री की अराधना व महामृत्युंजय सामुहिक जप व हवन आदि कार्यक्रम किए जाऐगे। लेकिन कोविड- 19 संक्रमण व लाॅकडाउन के कारण इसे स्थगित कर दिए। लेकिन इस बार जब यह देखा गया की पुरे सभावास मे कोरोना की स्थिति सामान्य है। इस लिए यह संकल्प लेते है की अगामी सौराठ सभा को ऐतिहासिक बनाना है। इसके लिए आज से ही हम ब्राह्मणों को एकजुट होकर इस कार्य में लग जाना चाहिए।

वही कार्यक्रम में शिरकत करने आए श्री श्री108 माधवेश्वर नाथ सभागाछी उत्थान समिति के बैनर तले उपस्थित अतिथियों का मिथिलाक परंपरा के तहत स्वागत किया गया। सभा मे बतौर मुख्य अतिथि आईएएस मुकुन्द ठाकुर को सम्मानित किया गया। मुकुन्द ठाकुर ने उपस्थित लोगो को अस्वस्थ किया की अगामी सभा 30 जून से 8 जुलाई 2022 तक होनी है। इसमें हमारे जितने भी आईएएस व आईपीएस मित्र हैं, उनसे जरूर सभा के विषय पर बात करूंगा व उन्हें आने को कहुंगा।

खबरें और भी हैं...