पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसान आंदोलन करेंगे:किसानाें के सम्मान में शहादत दिवस मनाया गया

मधुबनी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सीपीआई के कार्यकर्ता ने संयुक्त किसान संघर्ष समिति की ओर से आयोजित राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत किसानों के सम्मान में सहादत सह श्रद्धांजलि दिवस मनाया। उपस्थिति लोगों को संबोधित करते हुए जिला मंत्री मिथिलेश झा ने कहा की 6 जून 2017 को मध्यप्रदेश के मंदसौर में कृषि उत्पादनों का न्यूनतम समर्थन मूल्य लागू करने की अपनी मांगों को लेकर हो रहे आंदोलन में किसान आंदोलनकारियों के ऊपर तत्कालीन बीजेपी के शिवराज सिंह चौहान सरकार के प्रशासनिक अधिकारी की ओर से गोली चलाई गई जिसमें 6 किसान मारे गए थे।

इन्हीं की मौत को आज संयुक्त किसान संघर्ष समिति ,राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत किसानों के सम्मान में सहादत सह श्रद्धांजलि दिवस मनाया जा रहा है। उसी क्रम में बिहार राज्य किसान सभा मधुबनी ने महान किसान नेता संगठन के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष , पूर्व सांसद स्व भोगेन्द्र झा की स्मारक के सामने शहीद हुए किसानों को नमन करते हुए श्रद्धांजली दी गई । कार्यक्रम में किसान सभा के राज्य सचिव मनोज मिश्रा , जिला सचिव लक्ष्मण चौधरी , राज्य परिषद सदय राकेश कुमार पांडेय , शहर मंत्री मोतीलाल शर्मा , किसान नेता राजेन्द्र मिश्र ,उमेश लाल साह सहित कई किसान शामिल हुए । शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देते हुए वक्ताओं ने कहा केंद्र सरकार किसानों का अपमान करती आ रही है । लोकतंत्र में सभी को अपनी मांगों को लेकर आंदोलन करने का हक है । लेकिन पूंजीपतियों के इशारे पर काम करने वाली बीजेपी किसान -मजदूर को बंधुआ समझती है। बीजेपी का यह नंगा चरित्र राष्ट्रीय किसान आंदोलन में भी देखने को मिल रहा है।

आंदोलनरत किसानों के ऊपर अमानवीय हरकतें बिगत दिनों स्पष्ट देखा गया है । वक्ताओं ने सरकार से मांग की है कि यास चक्रवात के कारण फसलों ,मुंग ,आम ,लीची व लोगों का कच्चा घर बुरी तरह नष्ट हो गया , अविलम्ब सर्वेक्षण करबाकर समुचित मुवावजे की घोषणा किया जाय । कोरोनो महामारी से बदहाल जिंदगी ,बेरोजगारी-महंगाई का दंश झेलते हुए हमलोगों का जीवन दुर्लभ हो गया है। किसान सभा के आंदोलन को मजबूत करने का संकल्प लेते हुए, शहीद किसानों को नमन करते हुए सीपीआई जिला मंत्री मिथिलेश ने कहा जबतक देश मे खेती सुरक्षित नही रहेगा। देश का समृद्ध विकास संभव नही है । किसानों के मांगो के समर्थन में हम लगातार आंदोलन करेंगे।

खबरें और भी हैं...