पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बरती जा रही सतर्कता:अब जिले में कोरोना पॉजिटिव गर्भवती के लिए अलग वार्ड की होगी व्यवस्था, सीएस को मिला दिशा-निर्देश

मधुबनी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लोगों को राहत सामग्री बांटते अधिकारी।
  • डाटा जिलावार व प्रखंडवार एवं आंगनबाड़ी केंद्रवार बांट कर जिला को भेजा गया

कोरोना संकटकाल के बीच मातृत्व स्वास्थ्य सेवाओं को व्यवस्थित एवं सुदृढ करने को लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने सिविल सर्जन डाॅ. सुनील कुमार झा को पत्र लिखकर आवश्यक निर्देश दिया है। निर्देश में कहा गया है कि राज्य सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा आंगनबाड़ी द्वारा कॉमन एप्पलीकेशन सॉफ्टवेयर के माध्यम से संकलित डाटा जिलावार व प्रखंडवार एवं आंगनबाड़ी केंद्रवार बांट कर जिला को भेजा गया है। जिसमें जिले में अगले तीन माह के दौरान अपेक्षित प्रसव की जानकारी दी गई है। साथ ही आरसीएच पंजी में भी गर्भवती महिलाओं के संबंध में आवश्यक जानकारी दी गयी है। ऐसे में उनके लिए जरूरी सुविधाओं की व्यवस्था जिला स्वास्थ्य विभाग को करना है।  आशा एवं आंगनबाड़ी सेविका की मदद से सभी गर्भवती महिलाओं जिनका प्रसव का समय अगले तीन माह में अपेक्षित है उनका मोबाइल नंबर एवं पता की जानकारी गृह भ्रमण कर एकत्रित कराया जाये तथा इससे स्वास्थ्य संस्थान स्तर पर संकलित करने व दूरभाष के माध्यम से सभी गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी नियमित रूप से प्राप्त करने का भी निर्देश दिया गया है।
गंभीर गर्भावस्था में विशेष निगरानी
गंभीर गर्भावस्था वाली महिलाओं की विशेष निगरानी के निर्देश दिए गए हैं एवं संबंधित आशा व एएनएम को प्रसव की तारीख से एक सप्ताह पूर्व से लगातार हाई रिस्क गर्भवती महिलाओं के घर प्रतिदिन भ्रमण करने एवं उनको ईडीडी(एस्टीमेटेड डिलीवरी डेट) के कम से कम तीन दिन पूर्व अस्पताल में लाकर प्रसव के लिए आवश्यक व्यवस्था कराने में सहयोग करने के विषय में निर्देशित किया गया है। इसकी पूरी जानकारी पूर्व में ही अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों एवं अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को देने की बात बताई गयी है। 
निगेटिव रिपोर्ट आने तक क्वारेंटाइन में रहेंगे
कोरोना पॉजिटिव गर्भवती माताओं के प्रसव के लिए अस्पताल के अलग कमरे को चिह्नित कर एक लेबर टेबल और एक बेड तैयार रखने को भी कहा गया है। इन गर्भवती माताओं के प्रसव कार्य में कम से कम चिकित्सा कर्मियों का उपयोग किया जाए और जब तक उक्त मरीज का कोविड जांच निगेटिव नहीं आ जाये तब तक संक्रमण से सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए प्रसव कक्ष का उपयोग अन्य चिकित्सीय कार्य में नहीं किया जाए। चिकित्साकर्मी भी मरीज के निगेटिव रिजल्ट आने तक क्वारेंटाइन में रहेंगे। साथ ही  प्रसव संबंधी कार्य को संजीवनी व ई जननी पोर्टल पर इंट्री किया जाय ताकि किये गये कार्रवाई एवं प्रगति से मुख्यालय को अवगत कराया जा सके।
क्वारेंटाइन सेंटर का अगर वीडियो वायरल हुआ तो दर्ज की जाएगी एफआईआर : सीओ
अंधराठाढ़ी |
प्रखंड के दर्जनों क्वारेंटाइन केंद्रों पर प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रवासियों का हाल-चाल का जायजा लिया। बीडीओ राजेश्वर राम के नेतृत्व में सीओ विष्णुदेव सिंह, थानाध्यक्ष अमृत लाल वर्मन, गया सिंह आदि शामिल थे। इस दौरान गौनोली, मदनपट्टी, देवहार, नवटोली पस्टन और प्रखंड मुख्यालय के क्वारंटाइन केंद्रों में रह रहे प्रवासियों से मिलकर विभिन्न व्यवस्थाओं के लिए लोगों से जानकारी ली। इसी क्रम में पस्टन विद्यालय में लाइट आदि छोटी-छोटी समस्याओं का तत्काल ही निदान किया। बीडीओ राजेश्वर राम ने बताया कि देवहार, गौनोली और प्रखंड मुख्यालय केंद्रों पर किट बितरण किया गया है। उन्होंने सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूरों से सहयोग देने तथा थोड़ा संयम बरतने को कहा। उन्होंने कहा कि अब तो सभी लोग अपने घर पर हैं और इस क्वारंटाइन सेंटर को अपना घर समझकर यहां एक दूसरे का सहयोग तथा सेंटर के नियमों का पालन करते हुए स्वयं को क्वारंटाइन में रखें, इसी में सभी की भलाई के साथ कोरोना जैसी काल से छुटकारा मिल सकती है। वही सीओ विष्णुदेव सिंह ने कहा कि प्रशासन के द्वारा हर संभव प्रयास रहता है, ताकि लोगो को किसी प्रकार की समस्या नहीं आएं।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें