पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कविता पाठ:हिंदी दिवस के अवसर पर छात्राओं ने किया कविता पाठ

मधुबनी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में शामिल शिक्षक-शिक्षिका और छात्राएं। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम में शामिल शिक्षक-शिक्षिका और छात्राएं।

हिंदी हमारी मातृभाषा है तथा हमें इसका सम्मान करना चाहिए । हिंदी हमारी वर्तमान परिपेक्ष्य में कश्मीर से कन्याकुमारी तक गुजरात से अरुणाचल प्रदेश तक भारत को एक सूत्र में बांध रखी है । उक्त बातें बीते मंगलवार को पार्वती लक्ष्मी कन्या प्लस टू स्कूल सभागार में प्रधानाध्यापिका इंदु प्रभा की अध्यक्षता में आयोजित हिन्दी दिवस समारोह को संबोधित करती हुई शिक्षिका सीमा झा ने कही । उन्होंने कहा कि भाषा हमारी संस्कृति, संस्कार, सामाजिक सरोकार, परंपरा, रीति-रिवाज एवं मानवीय गुणों को विकसित करने में बेहद मददगार साबित हुआ है । इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि हमारी पहचान भाषा से होती है । विविधता से भरे अपने देश में सभी भारतीयों को हिंदी ही एकसूत्र में बांधे रख सकती है । अध्यक्षता करते हुए प्रधानाध्यापिका इंदु प्रभा ने कहा कि हिंदी जनमानस की भाषा है । उन्होंने कहा राजनीति के दांव पेंच में आज तक हिंदी को संवैधानिक रूप से राष्ट्रभाषा घोषित नहीं किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है । कार्यक्रम को विद्यालय के शिक्षक डॉ अनिल ठाकुर, डॉ राजदेव महतो, डॉ संजीव शमा, डॉ अमरनाथ राय, डॉ हरेराम महतो, मोहन कुमार लाल, संदीप कुमार, रूप नारायण यादव, प्रेरणा कुमारी, कल्पना कुमारी, रूबी कुमारी आदि शिक्षक शिक्षिकाओं ने भी संबोधित किया । इस मौके पर बच्चों द्वारा कविता पाठ के अलावा निबंध वाचन भी किया गया।

खबरें और भी हैं...