पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छिड़काव:पोक्काह बोइग रोग से बचाव के लिए बलाइटाक्स-50 का करें छिड़काव

मधुबनी5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नियंत्रण के लिए वर्षा काल से ही किसान को सजग रहने की जरूरत है

जिले के गन्ने की खेती करने वाले किसान अगर गन्ने की फसल में लगे पोक्काह बोइग रोग से परेशान है तो उनके लिए खुशखबरी यह है कि उन्हें इस रोग से निजात मिल गया। जानकाराें की मानें तो यह रोग जुन माह से सितम्बर माह तक गन्ने की फसल में पकड़ता है। यह फुफंदी जनित रोग है। यह रोग बारिश के महिने में अधिक फैलता है। यह खासकर चौड़ी पत्ति वाले गन्ने की 0238 किस्म में अधिक पकड़ता है। इस रोग की तीन अवस्थाएं होती है। यह रोग प्रारंभिक अवस्था मे पतियो पर नीचे की जहां पत्ति तने से जुटती है।

वहां सफेद पीले रंग के धब्बे दिखाई देता है। जो बाद मे जाकर लाल, भूरे रंग का हो जाता है। इसकी दूसरी अवस्था में रोग अवस्था में पत्ति वहां से सड़ कर टूटकर गिरने लगती है। रोग की प्रकोप अधिक होने पर सारी पतियां आपस में मुड़कर एक-दूसरे से उलक्ष जाती है। रोग की तीसरी अवस्था में पोरो के ऊपरी हिस्सा चाकू से काटे गए के समान दिखने लगती है। कभी-कभी गन्ने की पेड़ ठूठ की तरह दिखाई देने लगते है। इससे फसल की बढवार रूक जाती है। जिससे पैदावार में काफी कमी दिखाई देते है।

किसान आमतौर इस रोग चोटी बेधक कीट का प्रकोप समझकर दुकान से कीट नाशक दवा लाकर छिड़कने है। जिससे कोई फायदा नहीं होता है। पोक्काहा बोइंग रोग फफूंदी जनित रोग है। इसका खेती मे फैलाव हवा के माध्यम से होता है। इसके नियंत्रण के लिए वर्षा काल से ही किसान को सजग रहने की जरूरत है। किसान लक्षण दिखाई देने पर बलाईटाक्स-50 की 2 ग्राम मात्रा प्रति लीटर पानी के हिसाब से या कापर आक्सीक्लोराइड 3 ग्राम प्रति लीटर पानी में डालकर घोल तैयार कर ले। फिर पन्द्रह दिन के अंतराल पर दो से दिन बार छिड़काव कर, इस रोग से गन्ने को बचा सकते है। उक्त जानकारी मिट्टी विशेषज्ञ सह कुशल कृषक राजेश सिंह ने दी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें