बदलाव जरूरी है:आने वाले समय में स्टेडियम काे बेहतर बनाया जाएगा : मंत्री

मधुबनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिकाबाबा कपिलेश्वर स्थान में प्रेस को संबोधित कर रहे बिहार सरकार के कला संस्कृति युवा मंत्री आलोक रंजन झा को स्थानीय लोगों ने जिला मुख्यालय में भौआरा के निकट विशाल स्टेडियम की दुर्दशा से अवगत कराया। लोगों ने कहा कि वर्षों से स्टेडियम धूल फांक रहा है। स्टेडियम जर्जर स्थिति में है। मधुबनी में बच्चों अाैर युवाओं के खेलने के लिए सिर्फ एक ही स्टेडियम हैं।

उसकी स्थिति भी बद से बदतर हैं। इस स्टेडियम में बच्चों के खेलने की बजाय परिवहन विभाग की ओर से गाड़ियों का ट्रायल करवाया जाता हैं। स्टेडियम में कई-कई महीनों तक पानी जमा रहता हैं जिससे स्टेडियम की दुर्गति हो रही हैं। मधुबनी दौरे पर आएं बिहार सरकार के खेल मंत्री से जब स्टेडियम पर सवाल पूछा गया, तब मंत्री ने कहा यदि स्टेडियम में किसी भी प्रकार की कोई न्यायिक बाधा नहीं होगी तो आने वाले समय में स्टेडियम को सभी खेलों काे खेलने लायक बनाया जाएगा।

भारत सरकार के खेलो इंडिया योजना के तहत स्टेडियम को खेल परिसर के रूप में बनाया जाएगा। जिला क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव कालीचरण ने बताया कि मधुबनी में स्टेडियम की सख्त जरूरत है। स्टेडियम नहीं रहने से खेलने वाले बच्चों का भविष्य खराब हो रहा हैं। मंत्री ने स्टेडियम बनाने की बात कही हैं जो स्वागतयोग्य हैं।

खबरें और भी हैं...