शिक्षकों मे उदासीनता फैली / स्थापना संभाग की उदासीनता से नहीं मिला शिक्षकों को वेतन : वसी

X

  • सरकार ने मई का अग्रिम वेतन भुगतान करने का आदेश जारी किया था

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

मधुबनी. राज्य के सभी कर्मी को सरकार ने मई का अग्रिम वेतन भुगतान करने का आदेश जारी किया था। जिसे सभी विभाग ने भी तत्परता से लिया और वेतन भुगतान किया गया लेकिन जिला के नियोजित शिक्षक जो चार महीने से वेतन से वंचित थे। उनको यह आस बनी थी कि ईद से पूर्व वेतन मिंलेगा और ईद की खुशी दोगुनी होगी लेकिन ऐसा हो नहीं सका। उक्त बातें टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष वसी अख्तर ने कही। उन्होंने कहा कि डीईओ के आदेश के बावजूद 10 प्रखंडों के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी और उन के वेतन संरचनाकर्ता ने ससमय वेतन विपत्र कार्यालय में जमा नहीं किया और जो जमा भी हुआ वह डीपीओ (स्थापना) और उनके प्रधान लिपिक की उदासीनता के कारण भुगतान नहीं किया जा सका। इसका सीधा असर मुस्लिम समुदाय के शिक्षकों पर पड़ा और इस ईद जैसे महापर्व में भी वह वेतन से वंचित रह गये और उन के बच्चों की ईद की खुशी छीन ली गई।
लिपिकों का किया जाए स्थानांतरण
संघ के  जिला महासचिव सत्यनारायण यादव ने मांग किया कि स्थापना शाखा में अधिकांश लिपिक काफी दिनों से जमे हुए हैं और उन में कार्य करने की रुचि नहीं रहती है। इसलिए इन सभी को इस शाखा से हटाकर अन्य शाखा में भेजा जाए, जिससे स्थापना कार्यालय के कार्यों में तेजी आ सके। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि लिपिक द्वारा कार्य को फंसा कर रखा जाता है और टाल मटोल की नीति अपनाई जाती है। जिस का प्रत्यक्ष प्रमाण है कि एक वर्ष के बाद भी प्रशिक्षित शिक्षकों का वेतन निर्धारण नहीं किया जा सका है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना