दिशा-निर्देश:राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे की सफलता को लेकर दिया गया प्रशिक्षण, 12 नवंबर को सीखने की उपलब्धि का होगा सर्वे

मधुबनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रशिक्षण देते डीईओ नसीम अहमद। - Dainik Bhaskar
प्रशिक्षण देते डीईओ नसीम अहमद।

राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे के दिन विद्यालय में शिक्षकों और छात्रों की शत-प्रतिशत उपस्थिति रहेगी। विद्यालय को पूरी तरह से साफ-सुथरा रखना है। जिन वर्ग कक्ष में सर्वेक्षण का कार्य किया जायेगा वहां वर्ग कक्ष बड़ा, हवादार और पूरी तरह से राेशनीयुक्त होगा। साथ ही वर्ग कक्ष में बिजली की व्यवस्था होगी। बल्ब और पंखा सहित अन्य सुविधा की उपलब्धता को भी पहले से ही सुनिश्चित करना है।

वाटसन प्लस टू उच्च विद्यालय में सर्वे को लेकर सभी संबंधित के लिए आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीइओ नसीम अहमद ने ये बात कही। उन्होंने कहा स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था होगी। विद्यालय का शौचालय साफ-सुथरा होगा। विद्यालय में अतिरिक्त पेंसिल व पेन की व्यवस्था होगी ताकि आवश्यकता होने पर विद्यार्थियों को अविलंब उपलब्ध कराया जा सके।

सर्वे कार्य के लिए प्रतिनियुक्त फील्ड इंवेस्टिगेटर व पर्यवेक्षक को पूर्ण सहयोग प्रदान करना होगा। इस दौरान टीचर और स्कूल से संबंधित पूरी जानकारी पूर्णत: भरकर पर्यवेक्षक को उपलब्ध कराएंगे। इस दौरान पीपुल्स व छात्रों के द्वारा एफआई और ऑब्जर्वर के सहयोग से फाॅर्म भरा जाएगा। इस कार्य में शिक्षक पूर्ण सहयोग करेंगे। मौके पर डीपीओ व अन्य संबंधित अधिकारी व कर्मी थे। डीईओ नसीम अहमद ने बताया कि इस सर्वेक्षण में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

तैयारियाें में जुटा हुआ है शिक्षा विभाग, 12 नवंबर को सभी स्कूलों को खोलने का निर्देश
नेशनल एचिवमेंट सर्वे के सफल क्रियान्वयन को लेकर शिक्षा विभाग तैयारियों में जुट गया है। डीईओ नसीम अहमद ने जारी कार्यालय आदेश में कहा है कि नेशनल एचिवमेंट सर्वे 2021 के लिए एमएचआरडी भारत सरकार द्वारा बच्चों के लिए लर्निंग एचीवमेंट के लिए 12 नवंबर 2021 को राष्ट्रव्यापी रिफ्लेक्शन ऑन इफेक्टिवनेश ऑफ स्कूल एजुकेशन एंड सिस्टम परफॉर्मेंस लेवल का मूल्यांकन निर्धारित है।

ऐसे में सभी निबंधित विद्यालयों के प्रधानाध्यापक, शिक्षक, शिक्षिका, प्रशिक्षु शिक्षक एवं शिक्षिका एवं प्रखंड साधनसेवी को निर्देश दिया गया है कि 12 नवंबर को सभी प्रारंभिक, माध्यमिक विद्यालय, उच्च माध्यमिक विद्यालय और डायट नरार खुले रहेंगे। विद्यालय में शत-प्रतिशत उपस्थिति की जिम्मेवारी विद्यालय के प्रधानाध्यापक व शिक्षकों की है। वहीं, इसके सफल क्रियान्वयन के लिए एडीपीसी सतीश कुमार व सहायक साधन सेवी अर्जुन कुमार को अधिकृत किया गया है। वहीं, डायट नरार में डीपीओ समग्र शिक्षा अभियान चंदन प्रभाकर ने प्रशिक्षण दिया।

खबरें और भी हैं...