सख्ती:साप्ताहिक बंदी नियम का उल्लंघन करने पर दो बर्तन दुकानें सात दिनों के लिए हुई सील, दुकानदारों में मचा रहा हड़कंप

मधुबनी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खुटौना में दुकान को सील करते एसडीओ व अन्य। - Dainik Bhaskar
खुटौना में दुकान को सील करते एसडीओ व अन्य।
  • फुलपरास एसडीओ, थानाध्यक्ष सहित भारी संख्या में पुलिस बल ने की कार्रवाई, मास्क चेकिंग अभियान भी चलाया गया

प्रखंड क्षेत्र में बढ़ते कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए बुधवार शाम को स्थानीय बाजार में प्रशासन के द्वारा कड़ा रुख अपनाते हुए दो दुकान को एक सप्ताह के लिए सील कर दिया। साथ ही अन्य व्यवसायी को भी कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि साप्ताहिक दुकान बंदी निर्धारित की है। इसके बावजूद अगर निर्धारित समय सीमा के अलावे दुकान खोलते है तो उनके विरुद्ध जुर्माना वसूली के साथ उस दुकानों को सील कर दिया जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार बुधवार शाम को फुलपरास एसडीओ गणेश कुमार ने नेतृत्व में थानाध्यक्ष संतोष कुमार मंडल सहित भारी संख्या में पुलिस बल ने स्थानीय बाजार में चेकिंग अभियान चलाया गया। इस दौरान स्थानीय बाजार में घंटों तक दुकान व मास्क चेकिंग कर कार्रवाई की गई।

मालूम हो कि बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर खुटौना बाजार को कंटेंमेंट जोन घोषित किया गया है। वहीं बाजारों में भीड़-भाड़ को देखते हुए जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए साप्ताहिक बंदी का भी आदेश जारी किया है। इसी क्रम में बुधवार शाम को साप्ताहिक बंदी को देखने के लिए बाजार में दुकान चेकिंग अभियान चलाया गया। थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि जांच के दौरान गांधी चौक के प्रशांत कुमार और जामुन शाह के बर्तन दुकान खुले पाए गए थे। उक्त दोनों दुकान को फुलपरास एसडीओ गणेश कुमार के आदेशानुसार सात दिनों के लिए सील कर दिया गया है।
कोविड हेल्पलाइन ने संक्रमण वाले क्षेत्र को कराई बैरिकेडिंग
बासोपट्टी|प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत कुल 14 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान अभी तक किया जा चुंका है। सभी संक्रमित मरीज को स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम कवारेंटाईन किया गया है। वहीं जसो गांव में कोरोना संक्रमित मरीज के मौत के बाद अन्य लोगों की जांच भी की गई। जांच में पहले दिन घर के ही 3 महिला सदस्य पॉजिटिव पाई गई। जिसके बाद कुछ लोगों ने जांच नहीं करवाया। लेकिन गांव के ही कुछ जिम्मेदार लोगों ने इसकी शिकायत प्रखंड विकास पदाधिकारी व कोविड हेल्पलाइन में किया। लेकिन उनके शिकायत पर कोई संज्ञान नहीं लिया गया।

जिसके बाद ग्रामीणों द्वारा दैनिक भास्कर को इसकी सूचना दी गई। सूचना मिलने के बाद जब भास्कर से हेल्पलाइन नंबर पर बात किया गया और मामले की जानकारी बताई गई। तब जाकर गुरुवार को मेडिकल टीम गांव पहुंची और अन्य छूटे लोगों की जांच शुरू किया। साथ ही गांव के उस भाग को पंचायती राज पदाधिकारी के माध्यम से बेरिकेट करवाया। जसो के ग्रामीणों की माने तो 27 अप्रैल को कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हुई थी और उन्ही के घर मे तीन अन्य पॉजिटिव केस सामने आया। बावजूद प्रशासन लापरवाह बने रहे। प्रशासन द्वारा गांव के उस भाग को बेरिकेट नहीं किया गया था

प्रशासनिक रोस्टर के विरुद्ध मधेपुर बाजार की खोली गई 8 दुकानों को किया सील

मधेपुर | जिला पदाधिकारी के आदेशानुसार निर्धारित दिन से इतर मधेपुर में संचालित किए जा रहे 8 दुकानों को प्रशासन द्वारा सील कर दिया गया। झंझारपुर एसडीओ शैलेश कुमार चौधरी के नेतृत्व में गुरुवार को उड़नदस्ता टीम ने स्थानीय बाजार में यह कार्रवाई की। इस दौरान न्यू बस स्टैंड स्थित गंगा मोबाइल शॉप, मुख्य बाजार स्थित जलपा ब्यूटी पार्लर, चूड़ी बाजार स्थित कुमार बैट्री सर्विस, लक्ष्मीपुर चौक स्थित सोनू बैट्री एंड सोलर तथा एक सैलून को सील किया गया। वहीं मुख्य बाजार स्थित एक ज्वेलरी दुकान और दो पटाखों की दुकान को भी सील कर दिया गया। एसडीओ ने बताया कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार को नियंत्रित करने हेतु जिलाधिकारी द्वारा दुकानों के खोलने के दिन निर्धारित किए गए हैं।

निरंतर की जा रही प्रचार प्रसार और प्रशासनिक हिदायत के बाद भी बिहार सरकार एवं जिला दंडाधिकारी के आदेश का उल्लंघन करते हुए मधेपुर बाजार में गुरुवार को कुछ दुकान खुला पाया गया। जिलाधिकारी द्वारा जारी रोस्टर के विरुद्ध मधेपुर में खोले गए कुल 8 दुकानों को अगले आदेश तक के लिए सील कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि सील किए गए दुकानों का सतत निगरानी हेतु चौकीदार को प्रतिनियुक्त करने का निर्देश थानाध्यक्ष को दिया गया है। इस दौरान उड़नदस्ता टीम के दंडाधिकारी सह सीओ पंकज कुमार सिंह, बीडीओ अर्चना कुमारी, थानाध्यक्ष अशोक कुमार, एसआई अजय कुमार प्रसाद, एएसआई फहीम खान सहित अन्य पुलिस बल थे।
72 लोगों की टेस्ट में 25 निकले संक्रमित | प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सह रेफरल अस्पताल मधेपुर पर गुरुवार को रैपिड एंटीजन किट से 72 लोगों का कोविड टेस्ट किया गया। जिसमें कुल 25 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए। यह जानकारी पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. अफजल अहमद ने दी। उन्होंने बताया कि 10 लोगों का सेंपल लेकर आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भेजा गया है। मधेपुर प्रखंड क्षेत्र में एक महीने में कुल 234 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। जिसमें एक की मौत हो चुकी है और 50 व्यक्ति कोरोना की जंग जीत चुके हैं।

खबरें और भी हैं...