पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वट सावित्री की पूजा की गई:लौकही प्रखंड में महिलाओं ने की वट सावित्री की पूजा

मधुबनी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लौकही बाजार, अटरी तुलसियाही, झहुरी, मनसापुर, नरहिया, बरुआर सहित विभिन्न गांवों में शुक्रवार को सुहागिन महिलाओं ने पति की लम्बी आयु और सुखमय जीवन के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए वटवृक्ष व वट सावित्री की पूजा की। उल्लेखनीय है कि वट वृक्ष में भगवान ब्रह्मा, विष्णु, महेश का निवास होता हैं। अमावस्या के दिन सावित्री ने अपने दृढ़ संकल्प और श्रद्धा से यमराज के द्वारा मृत पति सत्यवान के प्राण वापस कर लाई थी। महिलाएं भी इसी संकल्प के साथ अपने पति की आयु और प्राण रक्षा के लिए डाल में फूल, अगरबत्ती, पान प्रसाद आदि सामग्री से डाल सजा कर नई वस्त्र धारण कर दिन भर उपवास रह कर पूरे विधि विधान से वट वृक्ष व्रत सावित्री की सैकड़ों महिलाओं ने वट सावित्री की पूजा की।
सुहागिनों ने घरों में की वट सावित्री की पूजा, रखा उपवास
फुलपरास|पति की लंबी आयु एवं दांपत्य जीवन के कठिनाइयों को दूर करने के लिए सुहागिन महिलाओं ने शुक्रवार को वट सावित्री व्रत रखा तथा मान्यताओं के अनुरुप बरगद के पेड़ के नीचे बैठकर पूजा अर्चना की। महिलाओं ने घर में रहकर ही पूजा अर्चना की जबकि कतिपय महिलाओं के द्वारा घर के निकट अवस्थित बरगद के पेड़ों के नीचे जाकर भी पूजा अर्चना की गई। पूजा के डाला में सत्यवान सावित्री की मूर्ति, धूप, दीप, घी, फूल, फल, पूरियां, भींगा चना, बांस के पंखे, लाल धागा आदि लेकर बरगद पेड़ के नीचे सुहागिन महिलाओं के द्वारा विधान पूर्वक उपवास रख पूजा अर्चना की गई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser