पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Motihari
  • 6 Uncle Had Taken 50 Lakh Advance For The Registry Of The Land, The Dispute Was Not Written, The Accused Uncle Beaten And Killed The Nephew, 8 Days Later The FIR

रिस्ते का खून:6 कट्‌ठा जमीन रजिस्ट्री के लिए चाचा ने लिया था 50 लाख एडवांस, नहीं लिखी जमीन तो हुआ विवाद, आरोपी चाचा ने पीट-पीट कर भतीजे को मार डाला, 8 दिन बाद प्राथमिकी

मोतिहारी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हत्यारा चाचा ने विनय कुशवाहा की मौत के बाद उसके परिजनों को किया नजरबंद, किसी तरह भाग कर विनय की पत्नी पहुंची थाना, पदाधिकारियों को सुनाई घटना का वृतांत

घाेड़ासहन थाना क्षेत्र के चंपापुर काेइरिया गांव में वाहन का बकाया भाड़ा मांगने व जमीन रजिस्ट्री काे लेकर हुए विवाद में 26 जुलाई काे 40 वर्षीय युवक विनय कुमार कुशवाहा की जमकर पिटाई कर दी गई थी, जिसकी माैत उसी दिन इलाज के दौरान देर रात काे हो गई। पिटाई के आरोपी चाचा वीरेंद्र कुमार ने भतीजे विनय के परिजनों को उसकी माैत के बाद नजरबंद कर दिया। घटना के 8 दिन बाद मंगलवार काे विनय की पत्नी निर्मला देवी किसी तरह भाग कर थाना पहुंची। वहां उसने थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार मिश्रा काे पूरी घटना सुनाई और कार्रवाई के लिए आवेदन दी। उसके आवेदन पर चचेरे ससुर वीरेंद्र कुमार व पांच महिला सहित 13 लोगों पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई है। थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार मिश्रा ने बताया कि घटना की भनक तक नहीं मिल पाई थी। प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। कार्रवाई की जा रही है।

पांच महिला समेत 13 लोगों पर दर्ज कराई गई प्राथमिकी, छापेमारी शुरू

विनय से वीरेंद्र कुमार ने लिया था पैसा

विनय कुशवाहा की विधवा निर्मला देवी के मुताबिक उसका पति अपने चाचा वीरेंद्र कुमार को जमीन के लिए 50 लाख रुपए पैसा दिया था। लॉकडाउन के कारण जमीन की रजिस्ट्री नहीं हुई। लॉकडाउन खत्म होने के बाद पति ने वीरेंद्र से जमीन रजिस्ट्री करने को कहा। लेकिन, वह आनाकानी करने लगा। उसका पति कार भाड़ा पर चलाता था। भाड़े का 5 हजार रुपए वीरेंद्र के पुत्र सुनिल कुमार के पास बकाया था। रजिस्ट्री और भाड़े के रुपए मांगने पर पिटाई कर दी, जिससे मौत हो गई।

दुकान से खींचकर बेरहमी से की पिटाई

निर्मला देवी ने बताया कि गत 26 जुलाई की शाम उसका पति अपनी दुकान पर बैठा था। तभी वीरेंद्र कुमार व उसका पुत्र सुनील कुमार, अनिल कुमार, पोता भोला कुमार, राहुल कुमार, मधुरेंद्र कुमार, संतोष कुमार, प्रवीण कुमार समेत पांच महिला उसके घर पर आकर पति को दुकान से खींच कर मारपीट करने लगे। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। बेहोशी की हालत में आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए मोतिहारी ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान देर रात में ही उनकी मौत हो गई।
आरोपित ने हस्ताक्षर करा कर शव को जलवा दिया

सुबह में आरोपित चचेरा ससुर वीरेंद्र कुमार आया और प्रलोभन देकर कागज पर एक-दो जगह हस्ताक्षर करा लिया। उसके बाद शव को जलवा दिया। उसके बाद परिवार वालों को अपनी निगरानी में रखा। उसके परिजनों को धमकाया जा रहा था। जिससे डर से वे लोग बाहर नहीं निकल रहे थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें